भारत ने बचाई अमेरिकी लोगों की जान तो अहसान तले दब गए डोनाल्ड ट्रम्प, पीएम मोदी को कहा…

2719

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अब बदले बदले से नज़र आ रहे हैं. जो दिनों पहले भारत के लिए धमकी भरे शब्दों का प्रयोग करने के बाद जब उन्हें भारत से करारा जवाब और मदद दोनों मिली तो ट्रम्प के सुर बदल गए. अब वो पीएम मोदी के कसीदे पढ़ रहे हैं और भारत, बारात की जनता और पीएम मोदी को धन्यवाद भी दे रहे हैं.

दरअसल कोरोना ने दुनिय के सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका को घुटनों पर ला दिया. अमेरिका अपनी ताकत का डंका पूरी दुनिया में पीटता था लेकिन कोरोना के आगे उसकी एक न चली. ऐसे में भारत ने उसकी मदद की. मदद मिलने के बाद अमेरिका की जान में जान आई और राष्ट्रपति ट्रम्प ने भारत और पीएम मोदी को धन्यवाद कहा. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘मुश्किल हालात में दोस्तों के बीच और सहयोग की जरूरत पड़ती है. हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन पर फैसला लेने के लिए भारत और उसके लोगों को धन्यवाद. इसे हम कभी नहीं भुला सकते. इस सहयोग के लिए प्रधानमंत्री मोदी को शुक्रिया.

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन एक ऐसी दवाई है जो सबसे ज्यादा भारत में ही बनती है. भारत ने अपनी जरूरत के लिए इस दवाई के निर्यात पर रोक लगा रखी थी. लेकिन जैसे ही दुनिया के देशों में इसकी जरूरत की मांग बढ़ी, जो देश कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित हैं, उनके लिए भारत ने इसके निर्यात का रास्ता खोल दिया. उसके बाद डोनाल्ड ट्रम्प ने पीएम मोदी को महान बताया था. ब्राजील को भी भारत ने इस दवाई की सप्लाई की. जिसके बाद ब्राजील के राष्ट्रपति ने भारत की मदद की तुलना हनुमान और संजीवनी बूटी से की थी.