कुंभ में आने-जाने के लिए श्रद्धालुओं को मिल रही हैं परिवहन की ये ख़ास सुविधायें

304

प्रयागराज में होने जा रहे ,कुम्भ में इस बार हर छोटी-बड़ी चीजों का बहुत ध्यान रखा गया है, कुंभ मेले के लिए जहां राज्य सरकार काफी उत्साहित दिख रही हैं, वहीं दूसरी ओर रेल मंत्रालय और विमानन मंत्रालय भी इस भव्य आयोजन को लेकर तैयारियों में जुटे हुए हैं, भारत सरकार के अंतर्गत काम करने वाली एयर इंडिया ने शुक्रवार को कुंभ जाने के लिए 3 विशेष विमानों का ऐलान किया है.


www.thekumbhallahabad.com

ये विमान दिल्ली, कोलकाता और अहमदाबाद से प्रयागराज के लिए उड़ान भरेंगी. क्योंकि कुंभ में बड़ी संख्या में हवाई मार्ग से भी पर्यटकों के आने की उम्मीद है, इसलिए कुंभ जाने वाले श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा देने के लिए, एयर इंडिया द्वारा चलाई जाने वाली ये स्पेशल फ्लाइट हफ्ते में 5 दिन दिल्ली से प्रयागराज के लिए उड़ान भरेगी. एयर इंडिया का विशेष फ्लाइट सोमवार, बुधवार, शुक्रवार, शनिवार और रविवार के दिन दिल्ली से प्रयागराज के लिए उड़ान भरेंगी ,जबकि कोलकाता से प्रयागराज के लिए हफ्ते में तीन फ्लाइट मिलेंगी. कोलकाता से कुंभ आने वाले श्रद्धालुओं को मंगलवार, शुक्रवार और रविवार को फ्लाइट मिलेगी,तो वहीं अहमदाबाद से कुंभ आने के लिए एयर इंडिया हफ्ते में दो दिन विमान उड़ाएगा ,ये फ्लाइट बुधवार और शनिवार को श्रद्धालुओं को अहमदाबाद से कुंभ पहुंचाएगी, एयर इंडिया के आधिकारिक बयान में कहा गया है, कि ये विमान 13 जनवरी से 30 मार्च तक सेवा मुहैया कराएंगी.

Source-Air india

उधर भारतीय रेल ने भी कुंभ को देखते हुए 800 स्पेशल ट्रेनों को चलाने जा रहा है. ये ट्रेनें रेलवे के विभिन्न जोन से चलाई जाएंगीं.वही रेलवे द्वारा चलाई जाने वाली सभी 800 स्पेशल ट्रेनों में से 622 ट्रेनें उत्तर-मध्य रेलवे चलाएगा, पूर्वोत्तर रेलवे 110 ट्रेनें और उत्तर रेलवे 68 स्पेशल ट्रेनें चलाएगा. रेलवे ने गुरूवार को कुल 800 में से 332 ट्रेनों का समय सारणी भी जारी कर दी है, रेलवे स्टेशन या किसी अन्य प्रमुख स्थान से भी एयरपोर्ट के लिए शटल बसें चलाने की तैयारी है।

Source-India today

वही प्रयागराज कुंभ के लिए में एक हजार शटल बसें चलाने की योजना बन रही है, 35 से 55 सीटर इन बसों में दिव्यांगों और बुजुर्गों के लिए विशेष व्यवस्था होगी, मुख्या रूप से स्नान पर्वों पर इन बसों का संचालन चौबीस घंटे किया जाएगा। प्रत्येक मार्ग पर दस से पंद्रह मिनट के अंतराल पर इन बसों को चलाया जाएगा।इन बसों को स्पेशल तरीके से डिजाइन किया गया है ..बसों से शहर में वायु प्रदूषण नहीं होगा, बसें छोटी होने के कारण जाम की भी समस्या भी नहीं होगी , कुंभ में सीएनजी ऑटो-टेम्पो और ई-रिक्शा के लिए भी अलग-अलग रूट निर्धारित किए जाएंगे। चालकों को निर्धारित रूट पर ही चलना होगा। कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा को ध्यान में रखकर सारे इंतजाम किये जा रहे है ,तो फिर देर किस बात की और अगर आपने कुम्भ के लिए टिकट बुक नहीं कराई , तो फिर फटाफट टिकट बुक कराये ,और भव्य महा कुम्भ का आनंद उठाये