TMC का विरोध प्रदर्शन, भबानीपुर में भाजपा कार्यालय में तोड़फोड़

400

ममता राज में मनमर्जियों का सिलसिला बढ़ता ही जा रहा है…इसका उदाहरण आप पहले ही देख चुके है जब अमित शाह के रैली के बाद TMC और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच जड़प हो गई थी.. उसके बाद TMC कार्यकर्ताओं ने नाकि जमकर हंगामा किया था ..बल्कि बीजेपी कार्यकर्ताओं के लेकर जाने वाली बसों को तोडा …और उन्हें आग के हवाले कर दिया था .लेकिन अब सीबीआई और ममता बनजी सरकार के बीच शुरू हुआ हाई बोल्टेज ड्रामा और आगे तक बढ़ता नज़र आ रहा है.

ममता के धरने पर बैठने के बाद से ही प्रदेश में ..उनके कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे हैं..अब ताजा मामला ममता बनर्जी के भवानीपोर निर्वाचन क्षेत्र से है, जहाँ भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय में तोड़फोड़ की गई है… जिसकी जानकारी बंगाल बीजेपी ने अपने ट्वीटर हैंडल से तोड़फोड़ का वीडियो अपडेट करते हुए दी .. आरोप है कि तोड़फोड़ तृणमूल कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा की गई है… ख़बरों के अनुसार इस मामले को लेकर पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केएन त्रिपाठी ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह को एक रिपोर्ट सौंप दी है.. गृहमंत्री ने मामले को लेकर उनसे बातचीत करते हुए मामले की रिपोर्ट माँगी थी.. इस पूरे घटनाक्रम को देखने के बाद यह सवाल जरुर खड़ा होता है कि आखिरकर ये घटना जब हो रही थी..

तब पुलिस प्रशासन क्या कर रहा था? ऐसी घटनाओ को बार बार क्यों अनदेखा किया जाता है … अब चुनावी मौसम आ रहे हैं… कई रैलियां आयोजित की जाएँगी..नेताओं का आना जाना बढेगा… चुनावी भाषण दिए जायंगे…पर जो ममता बनर्जी CBI की जांच को अलोक्तान्त्रिक बता रही है क्या उन्हें सरेआम कानून के साथ होता ये खिलवाड़ नहीं दिखता …खैर इन घटनाओ को देख कर हम तो यही कहेंगे कि राजनीति को राजनैतिक ढंग से कीजिये …जिस में किसी को ना तो तकलीफ पहुचे ना ही लोगों की भावनाओ को ठेस पहुचे ..क्यों की नई सोच ही राजनीति की नई दिशा का निर्धारण करती हैं.