ये वाहन निर्माता कम्पनी करेगी भारत में बड़ा निवेश, बढेगा रोजगार

1083

भारत में इस वक्त ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री अपने बूस्ट पर है, तमाम नई वहन निर्माता कम्पनियां अपने पाँव ज़माने के इरादे लेकर भारतीय बाजार में निवेश कर रही हैं. कुछ बड़ी कम्पनियां ग्राहकों के बजट को ध्यान में रखकर वाहनों को बना रही हैं तो कुछ कम्पनियां आधुनिक सुविधाओं से लैस वाहनों का निर्माण करके अपनी जगह को बाजार में पुख्ता करना चाहती हैं. ऐसी ही एक वाहन निर्माता कम्पनी ‘मोरिस गेराज’ अब भारतीय ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री में धमाकेदार वाहनों को लांच  कर चुकी है, और लांच के साथ ही ये कम्पनी अपनी तकनीकी सुविधाओं की वजह से चर्चाओं में भी है.

बजट रेंज से मात्र थोड़ी उपर इस कम्पनी ने अपनी कुछ गाड़ियों को लांच किया है जो बेहद खूबसूरत डिजाईन के साथ सभी आधुनिक सुविधाओं को मुहैया करा रही है. हाल ही में इस कम्पनी की 12 लाख प्राइस रेंज में लांच हुई एक कार ने भारतीय बाजार में तहलका मचा दिया था. ‘मोरिस गेराज’ उस लांच से मिले फायदे को भुनाने के लिए अब और भी निवेश करने की तैयारी में है. कम्पनी के एक अधिकारी के मुताबिक- कम्पनी 3000 करोड़ का निवेश भारतीय बाजार में करना चाहती है. इससे पहले कम्पनी गुजरात में 2000 करोड़ का निवेश करके हलोल में अपना एक कारखाना खोल चुकी है.

गौरतलब है ब्रिटिश मूल की इस कम्पनी का स्वामित्व फिलहाल चीन की ASIC के पास है. गौरव गुप्ता मोरिस गेराज के भारतीय वाणिज्य अधिकारी हैं. उन्होंने कहा- हमने जनवरी में इस यात्रा की शुरुआत की थी, और अबतक कम्पनी का प्रदर्शन बेहतरीन रहा है. हमारी योजना दीर्घकालिक है इसलिए हम भारतीय बाजार में 3000 करोड़ का और निवेश करने वाले हैं.

इसके आलावा गौरव गुप्ता ने ये भी कहा कि कम्पनी एसयूवी सेगमेंट में और भी वहन लांच करने वाली है. इसी क्रम में कम्पनी द्वारा एक इलेक्ट्रिक स्पोर्ट यूटिलिटी व्हीकल पेश करेगी और 2021 तक इस सेगमेंट में 4 नए मॉडल लांच किये जायेंगे.