महिला सुरक्षा की बात करने वाली कांग्रेस को ढोंगी बता के लोगो ने फिर तगड़ी तरह सुना दिया

393

कभी सत्ता पर विराजमान रही कांग्रेस के सितारे आजकल गर्दिश में हैं,जिस किसी को भी देख लो वो मोदी जाप जपने में लगा हुआ है। कांग्रेस पार्टी की हालत तो ये हो गई है कि वो अपनी गलती होने पर भी लोगो की सुनती हैं और जब गलती ना हो तब भी लोग उन्हें गरियाने से बाज़ नही आते। सोशल मीडिया देखो तो कांग्रेस का हाल काफी बुरा दिखाई पड़ता है।

अभी फ़ेसबुक पर महिलाओ को आरक्षण देने को लेकर कांग्रेस ने एक पोस्ट की जिसमे कैप्शन लिखा गया की भारत महिलाओ के लिहाज़ से दुनिया का सबसे खतरनाक देश है।हमे इसको बदलने के लिए और ज्यादा महिला प्रतिनिधियों की जरूरत है। इसके अलावा काफी लंबा चौड़ा और भी लिखा हुआ था जिसको पढ़ना हम जरुरी नही समझतें।


ख़ैर,अब कांग्रेस का इतना ही पोस्ट करना था कि हमेशा की तरह लोग हो गए शुरू,खूब अपनी भड़ास निकाली।


कुंदन कुमार ने लिखा कि अगर वाकई कांग्रेस महिलाओ को लेकर वाकई ईमानदार है तो उसके दिमाग मे ये बात एनडीए सरकार के दौरान ही क्यों आई, उसने अपनी सरकार रहने के दौरान क्यों कोई कदम नही उठाया.अगर कांग्रेस सच मे महिला सशक्तिकरण को लेकर गंभीर है यो उसे  संसद में तीन तलाक बिल का समर्थन करना चहिए।


शेट्टी जैन लिख रहे हैं कि बनाया भी तुमने है चमचों।


सौरभ लिख रहे हैं कि जिस देश मे इटली से आकर सोनिया गांधी सबसे शक्तिशाली महिला बनी,वही पार्टी के रही है कि महिलाओ के लिए भारत दुनिया का सबसे खतरनाक देश है  लानत है कांग्रेस की सोच पे,चुनाव में सबक मिलेगा। सेम ऑन यू राहुल गांधी


मनीष सिंह लिख रहे हैं कि ट्रिपल तलाक क्यों पास नही होने दिया उसमे भी महिलाओ के हक की ही बात थी,बस राजनीति।


आशुतोष कमेंट कर रहे हैं कि कभी कश्मीरी पंडित भी कांग्रेस को ही वोट देते थे,परिणाम,आज ना उनके पास आज घर है,ना सम्मान,और ना ही ज़मीन। आखिरी मौका है,फ़ैसला आपका।


आदित्य शर्मा कह रहें हैं कि ट्रिपल तलाक का क्या,कुछ भी ज्ञान मत दो,चुनाव है तो महिलाओ के अधिकार याद आ गए।

सवाल दागते हुए शिव प्रसाद कह रहें हैं कि भारत 4-5 सालों में ही महिलाओ के लिए असुरक्षित हो गया क्या ?? उससे पहले का क्या??  भारत वाले पागल नही हैं।


अमोल राउत कह रहे है कि आपके पास 55 साल थे पर आपने कुछ बदलाव नही किया,अब अब एक और मौके के हकदार नही हैं।

हरीश सिंधे कह रहें हैं कि पहले अपनी पार्टी से दिग्विजय सिंह,अभिषेक मनु सिंघवी जैसे लोगो को साफ करो।


अर्पित लिख रहें हैं कि 55 साल दिए थे देश ने आपको ,आप तो नही ला पाए, उल्टा तीन तलाक का विरोध कर बैठे। डबल फेस कांग्रेस।

सुब्रता शाह सवाल पूछते हुए लिख रही हैं कि महिला सुरक्षा को लेकर 60 सालो में आपने क्या किया,अपने आप से पूछिएगा।


धनराज कह रहें है कि 70 सालों में आपने क्या किया ??अभी याद आ रहा है। भोले लोगो को पागल मत बनाओ।
लोग नही थके और सैकड़ो कमेंट करके जमके कांग्रेस की ही क्लास लगा दी।


भाई देखो, हम ये तो यही कहेंगे कि सिर्फ सोशल मीडिया पर ही मुद्दे उठाकर कुछ नही होता,ज़मीन पर उतरकर लड़ाई लड़नी पड़ती है तभी लोगो का सम्मान और प्यार मिलता है।अगर 60 साल पहले वाकई कांग्रेस ने कुछ किया होता तो ये जनता बात बात पर ना सुनाती। बाकी क्या ही कहे ये तो जनता की महिमा है वो ही जाने।