उस रात जो हुआ उसने पाकिस्तान को दाने दाने से मोहताज़ कर दिया।

520

सीमा पर पाकिस्तान के साथ तनाव चल रहा है। लेकिन भारत पर इसका इततु सा भी फर्क नही पड़ा,सब मजे में जी रहे है। क्रिकेट में अपनी टीम कंगारुओं के साथ साथ सीना चौड़ा करके मैच खेल रही है,सरकार का हर काम भी बढ़िया तरीके से हो रहा है। पाक से आने वाले माल के कम हो जाने का असर तो हमारे मार्किट पर घन्टा नही हो रहा। बिना किसी दिक्कत के सब कुछ बड़े आराम से पहले जैसा ही चल रहा है जैसे कुछ हुआ ही ना हो ।लेकिन सवाल ये है कि क्या पड़ोसी मुल्क में भी सब कुछ ठीक ठाक है ??

यूँ तो अपनी धरती पर आतंक को दाना पानी देना पाकिस्तान की पुरानी आदत रही है। लेकिन 2014 में आई मोदी सरकार ने उसके इस मंसूबे को बखूबी समझते हुए बढ़िया से ईलाज करने वाली नीति पर काम किया। सभी देशो को कह दिया कि भाई लोग आओ मिलके आतंकवाद को खत्म करेंगे। नतीजा ये हुआ कि दुनिया हमारे साथ आई और फिर शुरू हुआ पाक को बेपर्दा करने का खेल। अभी हाल ही में जैसे ही पुलवामा में पाक ने हमला करवाया तो सरकार ने दुनिया को सबूत दिखाने  के चक्कर में अपना टाइम  नही गवाया क्योकि भारत दुनिया को पहले ही पाक के खिलाफ पर्याप्त सबूत देकर उसे बेपर्दा कर चुका था। अब तो बस एक्शन भी लेने का टाइम था,एक्शन लिया गया और ऐसा लिया कि आतंकवादियों के बाप दादा-ताऊ -ताई सब याद रखेंगे।


रात में भारत की तरफ से आतंकियो के ठिकानों पर हुई एयर स्ट्राइक में सैकड़ो आतंकी मारे गए। जिसके बाद पाक को भी सीना ठोककर कह दिया की अब मसला बातचीत से तो बिल्कुल हल नही होगा। 
आतंकियों को गोद मे खिलाने वाले देश को ऐसी गहरी चोट दी गई कि आज पाकिस्तान में लोग दाने दाने को मोहताज़ हो गए है।ऐसा कैसे हुआ,आइए आपको फटाफट बताते है।


साग सब्जी से मोहताज़
कुछ को छोड़ दे तो भारत के ज्यादातर किसानों और व्यापारियों ने पाकिस्तान माल भेजने से साफ इंकार किया हुआ है, लोगो का कहना है कि देश पहले है प्रॉफिट बाद में।साग सब्जी पाकिस्तान ना जाने से फिलहाल वहां लोग खाने के लिए मोहताज़ है। पाकिस्तान में इतनी साग सब्जी नही उगाई जाती जिससे सभी को रोज़ खाने में सब्जी मिल सके। वहां के लोग परेशान है।


महंगाई चरम पर पहुँची

बदलते भारत के सख्त कदमो ने पाकिस्तान को परेशान करके रखा हुआ है। फिलहाल आलम ये है कि पाकिस्तान में महंगाई आसमान छूने लगी है।  गल्फ टाइम्स की बातों का यकीन करें तो फरवरी महीने में पाकिस्तान की महंगाई दर अचानक से बढ़कर 8.2 तक पहुँच गई है। पाकिस्तान ब्योरो ऑफ स्टेटिक्स यानी पीबीएस की रिपोर्ट के मुताबिक फरवरी महीने में टमाटर,अदरक,शुगर,मटन,गुड़,घी,मछली,मूंग,दाल की कीमतें इतनी बढ़ गयी है की पाकिस्तानी आवाम के लिए इन्हें खरीदना बहुत मुश्किल हो रहा है।


सिम्पल आप ऐसे समझो कि जो टमाटर जनवरी में 10 रुपए किलो की कीमत पर बिक रहा था वो आज 135 से 180 रुपए किलो के बीच बिक रहा है।प्याज के रेट भी 15रुपए से बढ़कर 40-50 तक पहुँच गए है। ये तो मैंने आपको सिर्फ बेसिक सी चीजो के रेट बताए है बाकी सब्जियों का हाल भी यही है।


आर्थिक तंगी ने पाकिस्तानी आवाम की कमर तोड़ी- पाकिस्तान भारत को सीमेंट और ताज़े फलों की सप्लाई करता है। करता तो और भी चीजे है लेकिन पाक के ज्यादातर ट्रकों में यही दो सामान आपको लोड हुए दिखाई देंगे। अब भारत की तरफ से 200% इम्पोर्ट ड्यूटी लगा देने के बाद भारत का कोई भी व्यापारी वहां से माल नही मंगवा रहा। जिसके चलते पाकिस्तानी आर्थिक रूप से कंगाल हो चुका है। लोग बेरोजगार हैं। 
भाई ये सब देखकर तो हम बस यही कहेंगे कि भारत दुश्मनी और दोस्ती पूरी शिद्दत से निभाता है। बाकी ये तो सिर्फ शुरुआत है जिस हिसाब से पीएम मोदी तेवर दिखा रहें है उसके मुताबिक तो अभी पाक को बहुत कुछ झेलना है।