बिहार पहुँचने के बाद तेजस्वी सूर्या ने वि’प’क्ष पर किया क’टा’क्ष, बोले मैं भी थोड़ा बिहारी…

1250

बिहार में विधानसभा चुनावों का आगाज हो चुका है. चुनाव से पहले सियासत जारी है. सभी दलों ने जनता को लुभाने के लिए चुनावी वादे भी करना शुरू कर दिया है. बिहार में विधानसभा चुनावों के चलते सियासी गलियारों में हलचल तेज हो चुकी है और नेताओं के दल बदल का दौर भी शुरू हो गया है. चुनावों की तारीखों के ऐलान के बाद बीजेपी के कई बड़े नेता प्रचार प्रसार के लिए मैदान में उतर आये हैं.

जानकारी के लिए बता दें बिहार चुनावों की तैयारी के बीच अभी हाल ही में राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने नयी राष्ट्रीय कार्यकारिणी का गठन किया था. जिसमें तेजस्वी सूर्या को बड़ी जिम्मेदारी देते हुए उन्हें भारतीय जनता युवा मोर्चा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया था. नई कार्यकारिणी गठन होने के तुरंत बाद ही युवा नेता तेजस्वी सूर्या एक्शन में आ गए हैं और अपनी जिम्मेदारी का नि’र्व’ह’न करते हुए बिहार पहुंच गये हैं.

बिहार पहुंचने के बाद ही तेजस्वी ने वि’प’क्ष पर जमकर ह’म’ला बोला है. वि’प’क्ष के युवराज यानी की लालू के लाल अपने नामाराशी तेजस्वी यादव पर क’टा’क्ष करते हुए कहा है कि वो लोग युवाओँ का द’र्द क्या जानेंगे जो खुद महलो की राजनीति करते हैं. उन्हे युवाओं के सं’घ’र्ष पर बात करने का नैतिक अधिकार नहीं है.

तेजस्वी सूर्या ने ‘माउंटनमैन’ दशरथ मांझी को याद करते हुए कहा कि ‘यहां के युवाओं के असंभव को संभव करने के प्रतीक दशरथ माझी हैं. सूर्या ने पलायन की चर्चा करते हुए भोजपुरी शेक्सपीयर के रूप में प्रसिद्ध भिखारी ठाकुर को भी याद किया. उन्होंने कहा कि पलायन का द’र्द पी’ढ़ि’यों का है, जिसे भिखारी ठाकुर ने अपने गीतों में भी पिरोया है.’इसके बाद अपना कनेक्शन बिहार से जोड़ते हुए उन्होने कहा कि “हमारे संसदीय क्षेत्र में भी बिहार के कई युवा रहते हैं. इस कारण मैं भी थोड़ा बिहारी सांसद हूं और यहां की आकांक्षा और लोगों के द’र्द को समझता हूं.”