सुशील मोदी ने पूर्णिया में द’लित नेता की ह’त्या पर राहुल गाँधी पर सा’धा नि’शाना, कही ये बात

बिहार में विधानसभा चुनावो की तारी’खों का ऐ’लान हो चुका है. जिसके साथ ही आ’रोप प्रत्या’रोप का सिलसिला भी जारी है. वहीँ नेताओं का दल ब’द’ल’ना भी जारी हैं. बिहार विधानसभा चुनावो को देखते हुए महागठ’बं’ध’न में सीट शेयरिंग को लेकर बहुत दिनों से घ’मा’सा’न जारी है

इसी बीच आरजेडी के ही नेता ने पूर्णिया में राष्ट्रीय जनता दल एससी-एसटी प्रको’ष्ठ के पूर्व प्रदेश सचिव शक्ति मल्लिक की ह’त्या मा’मले में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव पर आ’रोप लगाया था. जिसके बाद अब इस मामले में राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी राहुल गाँधी पर नि’शाना सा’धा है.

उन्होंने कहा कि परिवारवादी आरजेडी ने बिना सहयोगी द’लों की राय लिए, बल्कि दलि’तों-पिछ’ड़ों की दो पार्टियों को अपमा’नित कर जिस व्यक्ति को मुख्यमंत्री का चेहरा बनाने की जि’द पूरी की, उस ‘राजकुमार’ के चेहरे पर पू’र्णिया के युवा दलित नेता की ह’त्या का आ’रोप लगा है.

साथ ही उन्होंने सवाल उठाते हुए पूछा कि कांग्रेस और वाम’दल बताएं कि क्या चुनाव लड़’ने का टिकट देने के बदले 50 लाख रुपये मां’गने और ह’त्या कराने का आ’रोपी सीएम-फेस महाग’ठबंधन को मं’जूर है? इतना ही नहीं उन्होंने ये भी कहा कि क्या श’व पर राज’नीति करने वाले जीव तभी जमा होंगे, जब घट’नास्थ’ल, म’रने वाले का जा’ति, ध’र्म, लिं’ग और ह’त्यारों का जा’ति, ध’र्म सब’कुछ उनकी पॉलि’टिकल स्क्रि’प्ट के अनुकूल होगा?

जाहिर है दलित नेता की ह’त्या के मा’म’ले में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव और उनके बड़े भाई तेजप्रताप यादव समेत 6 लोगों के खि’ला’फ ना’म’ज’द प्रा’थ’मि’की द’र्ज की गई है. इसी क्रम में शक्ति मलिक की पत्नी खुशबू मलिक ने एबीपी न्यूज से बातचीत की. इस दौरान वो भावुक हो गई और कहा कि ‘मेरे मांग का सिंदूर मिटाने वालों को कड़ी से कड़ी स’जा होनी चाहिए. मैं चाहती हूं कि मेरे पति के गु’ना’ह’गा’रों को फां’सी की सजा हो.’

Related Articles