ड्रग्स केस: पूर्व असिस्टेंट डायरेक्टर की तलाश में NCB, SSR को ड्रग्स देने का आरोप और..

64

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की रहस्यमय मौत के मामले में अब NCB ने नया तरीका अपनाया है. SSR के पूर्व असिस्टेंट डायरेक्टर ऋषिकेश पवार फरार हैं, जिनकी तलाश में NCB ने सर्च अभियान की शुरुआत की है. बता दें कि इस पूर्व डायरेक्टर पर आरोप है कि ये सुशांत सिंह राजपूत को ड्रग्स सप्लाई करते थे.

बता दें कि ड्रग्स केस में ऋषिकेश पवार से एनसीबी ने पहले भी पूछताछ की थी. पिछले साल जब ड्रग्स मामले में एनसीबी एक के बाद एक अहम खुलासे कर रही थी तब तब एक ड्रग्स सप्लायर ने ऋषिकेश पवार का नाम लिया था. इतना ही नहीं दीपेश सावंत के स्टेटमेंट में भी ऋषिकेश पवार का नाम है और आरोप था कि वो ही सुशांत सिंह राजपूत को ड्रग्स सप्लाई करते थे.

मिली रिपोर्ट् के आधार पर बता दें कि ऋषिकेश पवार की ओर से पिछले साल मुंबई की एक अदालत में अग्रिम जमानत की अपील की गई थी. इसके बाद बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर तो की गई, लेकिन HC ने वापस सेशंस कोर्ट जाने को कहा. हालांकि अब हाल में ही ऋषिकेश पवार की याचिका खारिज हुई, जिसके बाद NCB की टीम चेंबूर में ऋषिकेश पवार के घर पहुंची लेकिन वो जबतक फरार हो गए थे.

गौरतलब है कि एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के मुताबिक, ‘ऋषिकेश पवार का सर्च ऑपरेशन जारी है. उन्होंने बताया कि पवार के खिलाफ कई सबूत सामने आए हैं, जिसमें ये साफ हुआ है कि वो सुशांत को ड्रग्स सप्लाई करते थे.