सुरजेवाला ने राहुल गाँधी और कांग्रेस को पूरी तरह से फंसा दिया है

298

राहुल गांधी ने न्यूनतम स्कीम की घोषणा करते हुए कहा था कि ये एक टॉप अप स्कीम है और गरीब परिवारों को 72000 रुपए साल के दिए जाएंगे राहुल गांधी ने न्यूनतम आय योजना के बारे में प्रेस कॉन्फ्रेंस तो कर दी, लेकिन इसके बाद रणदीप सुरजेवाला का बयान कांग्रेस अध्यक्ष के बयान के खिलाफ चला गया. सोशल मीडिया ने इस बात पर कांग्रेस और अध्यक्ष दोनों को ट्रोल करना शुरू कर दिया

राहुल के भाषण के अगले ही दिन कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने अपने भाषण में कहा कि ये बिलकुल भी टॉप अप स्कीम नहीं है और सभी 20% परिवार जो इस स्कीम का हिस्सा होंगे उन्हें 72000 रुपए साल के दिए जाएंगे. यानी ये कोई टॉप अप स्कीम नहीं है. सुरजेवाला ने कहा कि पहले कुछ गलतफहमी हो गई थी

जैसे ही सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस मुद्दे को उठाया वैसे ही सोशल मीडिया पर लोगों ने राहुल गांधी और कांग्रेस को ट्रोल करना शुरू कर दिया क्योंकि सिर्फ 1 दिन के अंदर ही कांग्रेस की तरफ से दो अलग-अलग भाषण आ गए भाजपा ने अपने ट्विटर हैंडल पर इसे शेयर किया है एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि ये हमेशा की तरह हिंदुस्तान की जड़ खोदने में लगे हुए हैं, चाहे ऐसे या वैसे…

वहीं एक यूजर ने कहा की ये देश का दुर्भाग्य है कांग्रेस ने 50 सालों से देश पर राज किया और गरीबी हटाओ के नाम पर देश का दोनो हाथों से लूट कर अपना घर भरा अब देश के गरीब परिवार को कांग्रेस पार्टी खैरात बांटने का झांसा देकर वोट बटोरना चाहती है


कई लोगों ने तो कांग्रेस के पुराने किस्से भी याद दिलाए प्रवेश पवार नाम के एक यूजर ने लिखा कि मध्यप्रदेश में 10 दिन में लोन माफ करने वाले, अभी तक कुछ हुआ नही, ये सब वोट बटोरने के हथकंडे है और जनता अब झांसे में आने वाली नही है

वैसे कांग्रेस इस स्कीम को अपने चुनाव प्रचार का तो हिस्सा बना रही है, लेकिन इसके साथ ही लोगों को इस स्कीम से जुड़े पहलुओं को लेकर काफी कन्फ्यूजन भी है. जैसे, इतना पैसा आएगा कहां से? कैसे होगा वितरण, कौन से 20% परिवारों को उस लिस्ट में शामिल किया जाएगा? कैसे इस स्कीम पर भरोसा किया जा सके?अब सुरजेवाला के बयान के बाद एक और कन्फ्यूजन पैदा हो गयी है कि आखिर ये न्यूनतम आय योजना टॉप अप स्कीम है भी या नहीं

सुरजेवाला के बयान के बाद ऐसा लग रहा है कि जिन लोगों को 10000 हज़ार सैलरी भी मिलती है उन्हें भी 12000 ज्यादा दिए जाएंगे. इस तरह के कन्फ्यूजन से कांग्रेस के इस वादे पर सवाल खड़े होते हैं सबसे बड़ा सवाल ये भी है कि जब राहुल गांधी न्यूनतम आय योजना की घोषणा कर रहे थे तब सुरजेवाला उनके बगल में बैठे थे



ReplyForward