शाहीन बाग वालो को सुप्रीम कोर्ट का बड़ा झटका

4679

दिल्ली चुनाव में मतदान को कुछ ही घंटे बचे है. लेकिन शाहीन बाग में 55 दिन से चल रहा धरना खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है, और दिन पर दिन वहां का महौल गर्म होता जा रहा है. शाहीन बाग और वहां आस पास की जगह पर राहत मिलती नहीं दिख रही है. ये धरना देश के साथ-साथ विदेश में भी सुनने में आ रहा है. अब शाहीन बाग का मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच चुकी है. लेकिन मामले की सुनवाई टल गई है. अब कोर्ट इसपर 10 फरवरी को सुनवाई करेगा. शुक्रवार को सुनवाई के दौरान कोर्ट में कहा गया कि 8 फरवरी को चुनाव है, लोगों को दिक्कत होगी. इसपर कोर्ट ने कहा कि चुनाव की वजह से ही आज सुनवाई नहीं कर रहे हैं. न्यायालय ने कहा है कि वह शाहीन बाग में प्रदर्शनों के खिलाफ याचिकाओं की सुनवाई 10 फरवरी को करेगा क्योंकि वह मामले की शुक्रवार को सुनवाई करके दिल्ली विधानसभा चुनाव को ‘प्रभावित’ नहीं करना चाहता है.

जस्टिस एस के कौल और जस्टिस के एम जोसेफ की पीठ ने कहा, ‘हम इस बात को समझते हैं कि वहां समस्या है और हमें देखना होगा कि इसे कैसे सुलझाया जाए. हम सोमवार को इस पर सुनवाई करेंगे. तब हम बेहतर स्थिति में होंगे.’ जब याचिकाकर्ताओं में से एक की ओर से पेश वकील ने कहा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए आठ फरवरी को मतदान होना है तो पीठ ने कहा, ‘हम इसलिए कह रह रहे हैं कि सोमवार को आइए. हमें चुनाव को प्रभावित नही करना चाहिए’. पीठ ने याचिकाकर्ताओं से कहा कि वह सोमवार को इस बात पर बहस करने के लिए तैयार होकर आएं कि इस मामले को दिल्ली उच्च न्यायालय को वापस क्यों नहीं भेजा जाना चाहिए.