दिल्ली सीमा सील होने को लेकर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला

241

कोरोना वायरस के सं’कट की वजह से दिल्ली के अंदर स्तिथि ज्यादा खराब हो चुकी हैं. दिल्ली से कोरोना के मरीजो की संख्या आये दिन बढती जा रही हैं. जिसको देखते हुए दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने दिल्ली की सीमाओं को सील कर दिया था. जिसके बाद लोगों को आने जाने में दिक्कत का सामना करना पड़ता है.

दिल्ली सीमा को सील करने के बाद जब लोगो को आने जाने में दिक्कत होने लगी तब सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई थी. इस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने एनसीआर में छेत्र के लिए कॉमन पास बनाने का निर्देश दिया हैं. सुप्रीम कोर्ट ने आदेश में आगे कहा है कि ‘एनसीआर क्षेत्र में आवाजाही के लिए एक कॉमन पोर्टल बनाया जाए. इसके लिए सभी स्टेक होल्डर मीटिंग करें और एनसीआर क्षेत्र के लिए कॉमन पास जारी करें, जिससे एक ही पास से पूरे एनसीआर में आवाजाही हो सके.’

सुप्रीम कोर्ट में दाखिल याचिका को लेकर उच्च न्यायालय ने कहा है कि ‘दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के एनसीआर क्षेत्र में आवागमन के लिए एक सुसंगत नीति होनी चाहिए. कोर्ट ने कहा कि सभी राज्य इसके लिए एक समान नीति तैयार करें. एक हफ्ते के भीतर एक नीति तैयार हो. इसके लिए तीनो राज्यों की बैठक कराई जाए.’

सुनवाई के बाद जब सुप्रीम कोर्ट का आदेश आया तो हरियाणा सरकार ने कहा है कि हमने सभी तरह के पाबन्दी हटा दी हैं. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि एक नीति,एक रास्ता और एक पोर्टल बनाया जाये. कोर्ट ने आगे ये भी कहा कि केन्द्र सरकार इसको लेकर एक हफ्ते में समाधान निकाले.