तेजस्वी यादव ने कहा शुद्ध है उनका DNA तो JDU प्रवक्ता सुहैली मेहता ने लगा दी क्लास, कहा फिर तो उन्हें भी..

बिहार में होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीख जैसे जैसे नजदीक आती जा रही हैं वैसे वैसे सियासी गलियारों में हलचल तेज होती जा रही है. चुनाव से पहले राजद सुप्रीमो लालू यादव और उनके परिवार की मुश्किलें कम नही हो रही हैं. बिहार में चुनाव से पहले नेताओं का एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाना शुरू हो गया है. साथ ही जनता से चुनावी वादे भी शुरू हो गये हैं.

जानकारी के लिए बता दें महागठबंधन से सीएम पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव ने अभी हाल ही में एक ऐसा बयान दिया है जिसके बाद जेडीयू प्रवक्ता ने उनपर बड़ा निशाना साधा है. तेजस्वी यादव ने कहा था कि मेरा DNA शुद्ध है. जिसपर JDU प्रवक्ता सुहैली मेहता ने पलटवार करते हुए बड़ी बात कही है. उन्होंने कहा है कि उनका ये बयान संस्कारहीनता का परिचायक है.

सुहैली ने आगे कहा है कि जब तेजस्वी अपने DNA को शुद्ध मान रहे हैं तो इनको पता लगाना चाहिए कि डीएनए होता क्या है? अगर इनका डीएनए शुद्ध है तो इनके पिता जेल में क्यों हैं? अगर इनका डीएनए शुद्ध है तो इन्हें भी जेल में होना चाहिए. इन्हें जनता के बीच में रहने की कोई जरुरत नहीं है. इसी के साथ उन्होंने आगे कहा है कि तेजस्वी को सोच समझकर बयान देना चाहिए.

गौरतलब है कि JDU प्रवक्ता सुहैली ने आगे महागठबंधन द्वारा जारी किये गये संकल्प पत्र पर भी निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि किस बदलाव का संकल्प, बिहार को जब इन्होंने गड्डे में रखा उससे निकालकर कई मंजिल तक हमने पहुंचाया है. उन्होंने कहा इस बदलाव की बात कर रहे हैं कि जब राजद की सरकार में लू’ट, ड’कैती, ह’त्या और अप’हरण जैसे मामले हुआ करते थे. उन्होंने कहा लालू के रिश्तेदारों द्वारा अ’पहरण किये जाते थे, वहीँ उद्योगपति थे उनसे रं’गदा’री मांगी जाती थी, यही वजह रही जो सारे उद्योगपति यहाँ से पलायन कर गये.

वीडियो: Bihar Election : Jinnah की तरफदारी करने वाले Maskoor Usmani को टिकट दे कर फंस गई Congress