ऐसे एक दूजे के हो गए श्रीलंका की हंसिनी और मध्यप्रदेश के गोविंद, पढ़िए ये अनोखी कहानी

437

प्यार होना और शादी हो जाना आजकल आम बात सी है लेकिन क्या आपने कभी ये सुना है कि ट्विटर पर किसी को एक दूसरे से प्यार हो जाए और प्यार शादी में बदल जाए…और वजह भी ऐसी जिसे सुनकर आप चौंक जाएंगे..जी हां इस शादी की वजह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रहे..जी हां, प्रधानमंत्री का वैलेंटाइन कनेक्शन…

आईए जानते है की पूरा मामला क्या है

ये घटना मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले के कुंचड़ोद गांव की है..जहां गोविंद प्रकाश ने  श्रीलंका की हंसिनी से शादी रचा ली है….दरअसल, गोविंद प्रकाश सोशल साइट ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फॉलोअर है….प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कोई एक पोस्ट को गोविंद ने लाइक किया और उसी पोस्ट को हंसिनी ने भी लाइक किया… गोविंद ने जब हंसिनी का प्रोफाइल चेक किया तो देखा की हंसिनी भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़ी प्रशंसक है..गोविंद ने हंसिनी से बातचीत करने के लिए उसे हैलो लिखकर भेजा..धीरे-धीरे हैलो से हाउ आर यूं हुआ..उसके बाद बात आई लव यूं तक पहुंच गई..तबतक प्यार परवान चढ़ गया था..जिसके बाद क्या था हंसिनी सीधे सात समंदर पार कर श्रीलंका से भारत आ गई..

हालांकि हंसिनी को ये सब करने में बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ा..दोनों के पैरेंटस ये सच मानने को तैयार नहीं थे उनको लगता था की ये सब कुछ फेक है..लेकिन लड़की ने जैसे-तैसे अपने पैरेंटस को समझाया..फिर जन्मकुंडली भी मिलवाई गई..जब जन्मकुंडली मिल गई, तब जाकर पिता-माता राजी हुए..उसके बाद हंसिनी परिवार सहित मंदसौर के कुंचड़ोद गांव आ पहुंची और सात फेरों के बंधन में बंधकर हमेशा हमेशा के लिए गोविंद की हो गई.

बता दें, दुल्हन हंसिनी फिजियोथेरेपिस्ट है और दूल्हा गांव का एक छोटा व्यवसायी है. परिवार इस कप्पल को पाकर खुश है. परिवार वालों ने बताया कि पहले हम डरे हुए थे कि फेक आईडी होती है और कोई भी इस तरह के प्यार के चक्कर में पड़कर ठगी का शिकार हो सकता है लेकिन जब दोनों परिवार वालों ने एक-दूसरे को वीडियो कॉलिंग पर देखा और बात की..तब जाकर उनको यकीन हो गया कि यह सात जन्मों का रिश्ता है…भाई, इनके लिए तो नरेंद्र मोदी लक्की साबित हुए..ये तो रही गोविंद और हंसिनी की कहानी अगर आपके पास भी ऐसी कोई कहनी है तो हमसे शेयर जरूर करें…