इंसानियत को शर्मशार करती तस्वीरें, लॉक डाउन के बीच नामज़ रोकने गई पुलिस पर किया पथराव

5308

महाराष्ट्र में आये दिन कुछ न कुछ बवाल होता रहता हैं. देश में इस वक़्त लॉक डाउन चल रहा हैं. उसके बावजूद भी महाराष्ट्र के औरंगाबाद में लोग लॉक डाउन की धज्जियाँ उड़ाने से बाज नहीं आ रहें हैं और न ही वो कोरोना जैसी बीमारी को गंभीरता से ले रहें है. जिसकी वजह से आज महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहें हैं.

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में लोगों को बाहर निकलने पर पाबन्दी लगी हुई हैं. उसके बाद भी लोग मज्जिद जाकर नमाज पढ़ रहें हैं. जब पुलिस को ये खबर मिली तो वहां पर पुलिस ने उनको रोकने की कोशिश की तो पुलिस पर लोगों ने प’थरा’व कर दिया. औरंगाबाद ग्रामीण में सोमवार रात 8 बजे हुई इस घटना में तीन पुलिसकर्मी घा’यल हो गए थे. मामले में पुलिस ने अब तक 27 लोगों को गिर’फ्तार किया है. बताया जा रहा है कि पुलिस पर प’थराव करने वाली भी’ड़ में महिलाएं भी शामिल थीं.

संभाजी मार्ग पर स्थित एक मस्जिद में करीब 100 लोग नमाज पढ़ने जा रहे थे. पुलिस ने पहले उन्हें रोका और लॉकडाउन का हवाला देकर अपने-अपने घर लौट जाने की अपील की. इस दौरान कुछ लोग भ’ड़क गए और पुलिस पर प’थराव शुरू कर दिया. पथराव की खबर पाकर मौके पर भारी संख्या में फोर्स पहुंच गई और लोगों को हटाया. साथ ही घा’यल पुलिसकर्मियों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया. इस मामले में पुलिस अब तक 27 लोगों को गि’रफ्ता’र कर चुकी है. साथ ही कई लोगों की तलाश की जा रही है.

महाराष्ट्र के अंदर लॉकडाउन का पालन कराने गई पुलिस पर प’थराव की यह पहली घ’टना नहीं है. देश के अलग-अलग हिस्सों में ऐसी घटनाएं सामने आ चुकी हैं. महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के बढ़ते ग्राफ के कारण वहां स्थिति और चिंता’जन’क है. उसके बाद भी महाराष्ट्र लोग इस बात को समझने के लिए तैयार नहीं हैं. वो पुलिसकर्मी और डॉक्टर पर आये दिन ह’मला करते रहते हैं.