पीएम मोदी की सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने कही ये बड़ी बात !

1917

लद्दाख के हालात पर भारत में राजनीति तेज हो गई है. भारत के राजनीतिक दल हर मौके पर राजनीति करना जानते हैं. जब सरकार और देश के साथ एकजुटता से खड़े होने का वक़्त है. लद्दाख के गलवान घाटी में हुई झड़प के बाद अब भारत सरकार भी एक्शन में आ गयी है. सेना को तो पहले से ही खुली छूट दी हुई है. वहीँ अभी हाल ही में हुई झड़प के बाद दोनों देशों के बीच तनाव का माहौल बना हुआ है. लद्दाख के गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हुई झड़प में देश के 20 जवान श’ही’द हो गये थे.

जानकारी के लिए बता दें पीएम मोदी जवानों की शहादत पर बोले मैं देश को विश्वास दिलाना चाहता हूँ कि जवानों का बलिदान बेकार जायेगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 17 विपक्षी दलों के साथ सर्वदलीय बैठक कर रहे हैं. चीन की चालबाजी का जवाब देने के लिए पीएम मोदी सभी दलों से भी सुझाव लेना चाहते हैं, जिसके चलते उन्होंने इस मीटिंग को बुलाया है. इस बैठक में सोनिया गाँधी, नवीन पटनायक, उद्धव ठाकरे और नीतीश कुमार समेत तमाम नेता मौजूद हैं.

दरअसल भारत ने इस बार चीन को उसकी हरकत का जवाब देने की तैयारी कर ली है. मोदी सरकार ने चीनी कंपनियों को दिए रेलवे और BSNL से जुड़े ठेकों को रद्द कर दिया है. वहीँ गलवान घाटी में हुए शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए पीएम मोदी ने बैठक की शुरुआत की. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सभी नेताओं को चीन के बारे में जानकारी दी साथ ही बताया सीमा पर सेना पूरी तरह से मुस्तैद है.

गौरतलब है कि देश के प्रधानमंत्री के साथ चल रही इस सर्वदलीय मीटिंग में सोनिया गाँधी ने कहा कि चीन ने हमारे इलाके में घुसपैठ की. उन्होंने कहा ये बैठक पहले की जानी चाहिए. वहीँ इस बैठक को लेकर अन्य दलों ने बैठक को लेकर राजनीति शुरू कर दी थी. RJD ने कहा कि उन्हें इस बैठक में नहीं बुलाया गया. वहीँ ममता बनर्जी ने कहा कि वो देश की की अखंडता के लिए सरकार के साथ हैं.