रामायण देखने को लेकर सोनाक्षी का उड़ रहा था मज़ाक, पिता शत्रुघ्न उतर आये बेटी को बचाने

4148

कोरो’ना की वजह से आज देश में मौ’तों कि संख्या आये दिन बढती जा रही है. कोरो’ना के फैलन का सबसे बड़ा कारण है लोग इस बिमारी से ग्रसित होने के बाद भी लोग छुपा लेती हैं और बताते नहीं जिसकी वजह से आज कोरो’ना बढ़ता जा रहा है. केंद्र कि मोदी सरकार आज कोरो’ना पर पूरी तरह से नजर रखे हुए हैं. आज मोदी की तूती पूरे देश के अंदर बोल रही है. कल कि बात है कि अमेरिका भी भारत कि तरफ आज देख रहा है जब विश्व इतनी बड़ी आपदा झेल रहा हैं. उसके बाद भी मोदी ने देश को संभल रखा है.

कोरो’ना को रोकने का प्रयास केंद्र और राज्य सरकार द्वारा किया जा रहा हैं. वहीँ कोरो’ना में लोगों की मांग थी की रामायण को दोबारा दिखाया जाये तो उससे दिखाया गया हैं. रामायण और सोनाक्षी सिन्हा का एक पुराना नाता भी हैं. जिसके उपर काफी ज्यादा MEME बने थे. आज कि बात करें तो सोनाक्षी सिन्हा और उनका रामायण ज्ञान इस समय खूब सुर्खियों में चल रहा है. जब से एक्टर मुकेश खन्ना और दूरदर्शन ने अपने-अपने अंदाज में सोनाक्षी सिन्हा की टांग खींचने की कोशिश की है, एक्ट्रेस लगातार सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रही हैं. अब इस विवाद में खुद एक्ट्रेस सोनाक्षी सिन्हा ने तो कुछ नहीं बोला लेकिन उनके पिता शत्रुघ्न सिन्हा का रिएक्शन जरूर सामने आया है.

शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी बेटी का खुलकर बचाव किया और मुकेश खन्ना पर निशाना भी साधा है. मुझे लगता है कि कुछ लोगों को मेरी बेटी से इसलिए तकलीफ है क्योंकि उन्होंने रामायण के सवाल का जवाब नहीं दिया. लेकिन किसने उन्हें रामायण का एक्सपर्ट बनाया है. किसने उन्हें हिंदू धर्म का रक्षक बनाया है. सोनाक्षी का मजाक क्यों बना क्योकि उनके घर का नाम रामायण हैं.  बता दें कि पिछले साल सोनाक्षी सिन्हा केबीसी में ये नहीं बता पाई थीं कि हनुमान जी संजीवनी बूटी किसके लिए लाए थे. उनका ये जवाब ना दे पाना कई लोगों को हैरान किया था और उन्हें जमकर ट्रोल किया था.

आप लोगों को याद दिला दें कुछ दिन पहले मुकेश खन्ना ने सोनाक्षी सिन्हा पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि सोनाक्षी को रामायण और महाभारत देखनी चाहिए. उनके मुताबिक सोनाक्षी जैसे लोगों को देश की पौराणिक कथाओं के बारे में कोई जानकारी नहीं है.मुकेश खन्ना के इस बात को सुनकर शत्रुघन सिन्हा इस पर रियेक्ट किया था. और करना भी लाजमी था क्योकि उनकी बेटी है और पिता का फर्ज होता है की अपनी बेटी को बचाएं वही उन्होंने किया.