बीमार पिता को गोद में उठाए एक किलोमीटर पैदल दौड़ा बेटा, वीडियो हुआ वायरल

6558

देश में लॉकडाउन की स्थितियों के बीच इस बार कई जगह और कुछ शर्तों के साथ लॉक डाउन में कुछ कंपनी किसान और लोगों को रीयत दी गई हैं. वही केरल से एक मा’र्मिक विडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल होता दिख रहा हैं.

केरल से एक बेहद द’र्दभ’रा विडियो सामने आया हैं. जिसमे अपने 65 साल के पिता को बीमार देखकर एक बेटा उन्हें अस्पताल ले जाने के लिए उनको अपनी गोदी में उठा कर सड़क पर दौड़ता दिखाई दिया. बताया जा रहा है इसने अपने पिता के लिए एक ऑटो बुलाया था. जो उसके पिता को अस्पताल ले जाने के लिए आ रहा था. लेकिन पुलिस वालों ने उस ऑटो वाले को उसके घर से 1 किलोमीटर पहले ही रोक दिया था. तो बेटे के पास और कोई चारा नहीं था. तो उसने अपने बीमार बाप को वक्त पर अस्पताल पहुंचाने के लिए बेटे ने अपने पिता को गोद में ही लेकर अस्पताल के लिए निकल पड़ा.

ये पूरी घ’टना केरल के पुनालूर शहर में हुई. लॉकडाउन के बीच जब कोई और रास्ता नहीं मिला तो पिता को गोद में उठाकर घर से ऑटो तक लेकर दौड़ पड़ा. इसके बाद उसने किसी तरह पिता को उस ऑटो तक पहुंचाया, जिससे कि दोनों अस्पताल पहुंच सके. बेटा अपने बीमार पिता को गोद में उठाकर जब सड़क पर दौड़ रहा था तबका विडियो काफी वायरल हुआ. उसके बाद इस मामले को केरल राज्य मानवाधिकार आयोग ने अपने संज्ञान में लेते हुए. पुलिस से सवाल किया है ‘कि मरीज को ले जाने के लिए आए वाहन को किस स्थिति में रोका गया.’ इस मामले में आयोग ने एक के’स भी द’र्ज किया है.

हालांकि केरल की इस द’र्द भरी घ’टना को देखने के बाद. इस बात पर सवाल उठाया कि पुलिस ने आखिर बीमार को अस्पताल ले जाने की स्थिति में भी वाहनों को आवाजाही की अनुमति क्यों नहीं दी? सोशल मीडिया पर भी तमाम लोगों ने इसे लेकर पुलिस की कार्रवाई को कठघरे में खड़ा किया है. खड़ा करना भी लाज़मी है. क्योकि जब सरकार ने लॉकडाउन की वजह से छूट दे रखी हैं तो फिर पुलिस ने ऐसा काम क्यों किया?