मेरा फ़ोन उठा.. नहीं तो तेरी फ़ोटो और नंबर “गंदी साइट्स” पर डाल दूंगा

964

सोशल मीडिया से यकीनन दूरियां कम हुई हैं.. हम एक दुसरे से किसी भी वक़्त जुड़े रह सकते हैं.. किसकी लाइफ में क्या चल रहा है.. कौन क्या कर रहा है.. कहाँ घूमने जा रहा है.. किसके साथ जा रहा है.. सब कुछ पता होता है.. लेकिन सब कुछ सोशल मीडिया पर शेयर कर देना कई बार खतरनाक भी साबित होता है.. जब एक परिवार के सारे लोग कहीं घूमने चले जाते हैं और सोशल मीडिया पर फोटोज डाल देते हैं.. चेक इन कर देते हैं.. तो पीछे से उनके घर में चोरी हो जाती है.. आपका बच्चा स्कूल जाता है आप उसकी पिक अपलोड कर देते हैं.. और बच्चा उस स्कूल से किडनैप हो जाता है.. और यह मैं कह नहीं रही हूँ.. ये हुआ है..इसलिए सबसे पहले तो आपका यह समझना ज़रूरी है कि सोशल मीडिया पर आपसे जुड़ा हर व्यक्ति आपका हितैषी नहीं होता.. हर इंसान अच्छा नहीं होता..

आज हम आपको हाल ही मैं एक लड़की के साथ हुआ एक वाकया बताते हैं.. लड़की है निशा.. ये नाम काल्पनिक है.. निशा लखनऊ की रहने वाली है और पत्रकार है… रात के 11 बजकर 05 मिनट पर निशा के पास एक अननोन नंबर से फ़ोन आता है जिसपर ट्रूकॉलर आर्यन मतिना नाम शो करता है… क्यूंकि ये नंबर इंडिया का नहीं होता और निशा इसे जानती भी नहीं है तो वो फ़ोन नहीं उठाती लेकिन अगले ही पल निशा के पास उसी लड़के की फ्रेंड रिक्वेस्ट आती है फेसबुक पर.. और निशा ज्यादा कुछ सोचे बगैर उस लड़के को फेसबुक पर और उसके न. को फ़ोन पर ब्लाक कर देती है..

लेकिन वो लड़का यहाँ नहीं मानता उसके अगले कुछ मिनटों बाद वो फिर निशा को दुसरे नंबर से कॉल करता है.. ट्रूकॉलर पर फिर से वही नाम देखकर निशा फिर से उसके नम्बर को ब्लाक कर देती है…

लेकिन यह मामला यहाँ रुकता नहीं है.. यह तो शुरुआत है साइबर स्टाकिंग की

हर अगले मिनट पर निशा के पास नए न. से कॉल्स आने शुरू हो गए.. निशा एक न. ब्लाक करती.. दुसरे से फ़ोन आता.. दूसरे को ब्लाक करती तो तीसरे से फ़ोन आता.. और साथ ही साथ हर न. से “मुझे अनब्लॉक करो” का मेसेज भी आता..   

जब निशा नहीं मानी तो लड़का मेसेज करता है “ तूने मुझे अनब्लॉक नही किया ना.. अब तू देख मैं क्या करता हूँ”

और यहाँ शुरू होती है शोषण की कहानी..

रात के 12 बज रहे हैं और आर्यन अगले ही पल निशा को एक फोटो भेजता है.. जिसमें निशा की तस्वीर और फ़ोन न. होता है जिसमें नीचे लिखा होता है.. “रेडी फॉर सेक्स” यानि “मैं सेक्स के लिए सहमत हूँ” और लड़का निशा को डराने और धमकाने लगता है कि अगर तूने मुझे अनब्लॉक नहीं किया तो में तेरी फोटो और तेरा न. सोशल मीडिया पर डाल दूंगा..

लेकिन अब यहाँ आपके लिए यह जानना ज़रूरी है कि इसके बाद निशा क्या करती है..

निशा एक पढी लिखी पत्रकार है.. इसलिए उसका डर जाना नामुमकिन है.. निशा अगले ही पल वीमेन हेल्पलाइन न. 1091 पर फ़ोन लगाती है

पहले 2 बार तो फ़ोन उठता ही नहीं है लेकिन तीसरी बार में लेडी पुलिस वाली फ़ोन उठाती है मगर बिना कुछ सुने वापस रख देती है.. निशा टेंशन में आ जाती है क्यूंकि रात के लगभग 1 बज चुके हैं और ऐसे में वो पुलिस स्टेशन नहीं जा सकती.. और वो पागल लड़का हर मिनट उसको नए नए न. से लगातार कॉल और मेसेजस कर रहा है.. लेकिन निशा यहाँ घबराती नहीं है और समझदारी दिखाती है..  अब उसने जो किया वो आप सबको ध्यान से सुनना चाहिए..

जब निशा के पास कोई और चारा नहीं बचता तो निशा आर्यन मतीना के सारे मेसेजस और कॉल डिटेल्स साइबर क्राइम सेल को ट्वीट करती है, वही पोस्ट वो फेसबुक पर भी अपडेट कर देती है और साथ ही साथ अपने फ्रेंड्स और फॅमिली को भी इस बारे में अलर्ट कर देती है…

जैसे ही निशा अपने साथ हुई इस घटना के बारे में सोशल मीडिया पर बता देती है आर्यन मतीना का नाम, न. और सारे मेसेजस के साथ… उसके अगले ही पल वो निशा को सॉरी सॉरी के मेसेजस करने लगता है.. माफी मांगने लगता है.. कहता है “ मैडम मैं जानता हूँ मुझसे बहुत बड़ी गलती हो गई है.. सीरियसली मैंने आपकी फोटो एडिटिंग सिर्फ आपको डराकर न. अनब्लॉक कराने के लिए की थी.. मेरी और कोई इनटेंशन नही थी.. मुझे बहुत अफ़सोस हो रहा है.. मैं बहुत शर्मिंदा हूँ मैडम.. हो सके तो प्लीज मुझे माफ़ कर दो.. मैं आपके पैर पकड़ कर माफी मांग रहा हूँ.. प्लीज माफ़ कर दो.. फेसबुक से पोस्ट डिलीट कर दो मैडम प्लीज..”  

लेकिन निशा पोस्ट डिलीट नहीं करती तो आर्यन फिर से उसे मेसेज करता है

मैडम मुझे एहसास है मैंने क्या गलती करी है.. मैं अपने किये पे सच में बहुत शर्मिंदा हूँ मैडम.. प्लीज ख़ुदा के लिए मुझे माफ़ कर दो.. मैं आपके पैर पकड़ कर आपसे रहम की भीख मांग रहा हूँ.. फेसबुक से पोस्ट डिलीट कर दो.. आपको अल्लाह का वास्ता मैडम.. प्लीज माफ़ कर दो”

अगले दिन निशा अपनी शिकायत नेशनल कमीशन ऑफ़ वुमेन और पुलिस कमीशन दोनों को ई मेल करती है.. निशा की कंप्लेंट पर पुलिस ऑफिसर दिलाया जाता है और भरोसा दिलाया जाता है कि मामले पर उचित कार्यवाही होगी

लेकिन अल्लाह के नाम पर रहम की भीख मांगने वाला वो लड़का आर्यन मतीना अब भी निशा को धमकी दे रहा था.. “या तो फेसबुक से मेरी पोस्ट डिलीट करो नहीं तो मैं ख़ुदकुशी कर लूँगा”  

और इसके बाद उसने निशा को एक वीडियो भेजी जिसमें वो ब्लू कलर की पिल्स खा रहा था.. और बोल रहा था कि यह ज़हर है

खैर निशा ने इस मामले में समझदारी दिखाई और इन मेसेजस, फोटोज और वीडियोस आने के बाद वो नजदीकी पुलिस स्टेशन गई और आर्यन मतीना के खिलाफ पुलिस कंप्लेंट लिखवाई..

आजकल साइबर क्राइम बहुत कॉमन हो गया है.. लेकिन ज्यादातर लोग इन मामलों को बहुत गंभीरता से नहीं लेते और बाद में उनको इसका खामियाजा भुगतना पड़ता है.. लेकिन बेहतर कि आप सजग रहे, साइबर एक्सपर्ट रचित टंडन ने इस तरह की घटनाओं के लिए बताया है कि अगर ऐसा कुछ हो तो छुप ना रहे…

  • सबसे पहले इन घटनाओं को सोशल मीडिया पर ही रिपोर्ट कीजिये.. उससे वो सोशल प्लेटफार्म उस व्यक्ति को डिलीट या ब्लाक कर देगा.. रिपोर्ट से पहले उसके कमेंट्स.. मेसेजस.. फोटोज.. वीडियोस… उसके प्रोफाइल के स्क्रीन्शोट्स.. यूआरएलवगेरह सरे सुबूत अपने पास इकट्ठे कर लें…
  • साइबर क्राइम सेल में रिपोर्ट करें

आजकल हर शहर में अपना एक साइबर क्राइम सेल होता है.. साइबर से रिलेटेड किसी भी क्राइम की रिपोर्ट के लिए किसी पुलिस स्टेशन की बजाय साइबर सेल ही जायें.. लड़कियां अपने साथ हुए शोषण की रिपोर्ट वोमेंस सेल या एंटी स्टाकिंग सेल में भी कर सकती हैं

  • हर सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे फेसबुक, ट्विटर, इन्स्ताग्राम का ग्रिएवांस ऑफिसर होता है.. उनसे संपर्क करें और कानूनन सलाह लें

इनके अलावा सोशल मीडिया पर अपनी निजी जानकारी जैसे घर का पता, ऑफिस का पता, अकाउंट डिटेल्स, फ़ोन न., आपकी लोकेशन या कोई भी निजी जानकारी और आपके पर्सनल फोटोज भी.. किसी के भी साथ साझा ना करें.. और अनजाने लोगों को अपने मित्रों की सूची में ना जोड़े.. खासकर लड़कियां.. याद रखिये आप अपनी तरफ से जितनी सावधानी रखेंगी उतनी सुरक्षित रहेंगी.. और अगर कुछ भी गलत होता है तो चुप बिलकुल भी ना बैठे.. समझदारी दिखायें और जो भी कानूनी कार्यवाही होनी चाहिए वो कराएं.

निशा ने समझदारी दिखाई और आर्यन को सबक सिखाया.. उम्मीद है निशा की कहानी से सबक लेकर आप लोग भी अब सजग रहेंगे और सुरक्षित भी.