एक अफ’वाह फैली और बैंकों के आगे लग गई लम्बी-लम्बी लाइन

1047

सोशल मीडिया पर आजकल अफवाह फैलना आम बात है.और लोग इन अफवाहों पर विश्वास भी कर लेते है.ऐसी ही एक अफवाह सोशल मिडिया प्लैटफाॅर्म पर आग की तरह फैली गई ,यह खबर केरल की है जहां ये खबर सोशल मीडिया पर फैलाई गई कि,मोदी सरकार लोगों के खाते में 15 लाख रुपए जमा करा रही है. जिसके बाद खाता खुलवाने के लिए लोगों की बैंक के बाहर लंबी लाइनें लग गई।

सोशल मीडिया पर इस झूठे मैसेज को सच मानकर लोग पोस्टल बैंक खाता खुलवाने के लिए लाइन में खड़े हो गए. लाइन में खड़े लोगों ने कहा कि सरकार प्रधानमंत्री द्वारा किए गए 15 लाख रुपए के वादे को पूरा करने की योजना बना रही है. केरल के पर्यटक स्थल मुन्नार के चाय बगानों में हजारों लोग दिहाड़ी मजदूरी करते हैं. इन्हें जैसी ही इस खबर का पता चला तो ये काम छोड़कर खाता खुलवाने के लिए मुन्नार पोस्ट ऑफिस के बाहर जमा हो गए. मुन्नार के डाकघर में पिछले 3 दिनों में 1050 से ज्यादा नए खाते खोले गए है. इससे पहले भी ऐसा ही मामला सामने आया था जहां देवीकुलम के आरडीओ कार्यालय में भी ऐसी ही भीड़ दिखी थी, जब सोशल मीडिया पे मैसेज वायरल हुआ था कि सरकार बेघरों के लिए जमीन-मकान देने की योजना बना रही है.

दरअसल मोदी सरकार ने ऐसा कोई वादा किया ही नही था. उन्होंने चुनाव के दौरान छत्तीसगढ की एक रैली में कहा था कि विदेशी बैंकों में जितना भी काला धन है अगर वो वापस आ गया तो वो इतनी बडी रकम होगी कि देश के गरीबों में 15 लाख रुपए बांटे जा सकते है. लेकिन कुछ लोगो ने प्रधानमंत्री मोदी के उस बयान को गलत तरीके से हर सोशल मिडिया पर वायरल करते हुए लोगों को बताया कि मोदी सरकार सत्ता में आतेे ही हर भारतीय के अकाउंट में 15-15 लाख रुपए जमा करेंगे.