अमेठी में जनता से किये गये वायदे को पूरा करने जा रही हैं सांसद स्मृति ईरानी

1958

जिस समय 2019 में लोकसभा चुनाव नतीजे आ रहे थे तो पूरे देश की नजरें एक ही सीट पर टिकी हुई थी वो थी राहुल गाँधी का संसदीय क्षेत्र अमेठी. अमेठी के राहुल गाँधी के सामने बीजेपी ने दूसरी बार राहुल गाँधी के सामने मैदान में उतारा था. साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में स्मृति ईरानी को हार का सामना करना पड़ा था लेकिन साल 2019 में उन्होंने इतिहास रच कांग्रेस नेता राहुल गाँधी को हराकर बड़ी जीत दर्ज की थी.

जानकारी के लिए बता दें स्मृति ईरानी 2014 में मिली हार के बाद से भी इस क्षेत्र में सक्रिय थी और जन-जन संपर्क करती रहती थी. उसी का परिणाम ये हुआ कि स्मृति ईरानी ने भारी बहुमत से जीत हासिल कर राहुल गाँधी को हराया था. स्मृति ईरानी ने पिछले लोकसभा चुनाव में जनता से वादा किया था कि यदि वे सांसद चुनी जाती हैं तो वह लोगों की सुविधा के लिए जिला मुख्यालय पर अपना घर बनवाएंगी.

जनता से किये गये वादे को अब केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पूरा करने जा रही हैं. जी हाँ अब वह अपना नया आशियाना जिला मुख्यालय गोरीगंज के नजदीक रोड पर बनवाने जा रही हैं. नये घर के लिए पिछले काफी समय से जमीन की तलाश की जा रही थी जिसे अब पूरा कर लिया गया है. अभी हाल ही में स्मृति ईरानी के पति जुबिन ईरानी चिन्हित जमीन को देखने पहुंचे थे.

गौरतलब है कि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि चिन्हित जमीन भी स्मृति ईरानी के पति को पसंद आ गयी है. अब जल्द ही स्मृति ईरानी जनता से किये गये वायदे को पूरा कर अपने नए आशियाने में रहेंगी और अपने संसदीय क्षेत्र के लोगों की समस्याओं को सुनेगी. साल 2019 से उन्होंने एक किराये का घर ले रखा था जहाँ से चुनाव भी संपन्न हुए थे.