कोरोना संक्रमित सिख श्रद्धालुओं की वजह से पंजाब में हड़कंप, दिग्विजय सिंह ने की तबलीगी जमात से तुलना

2406

महाराष्ट्र के नांदेड़ साहिब से लौटे सिख श्रद्धालुओं को लेकर महाराष्ट्र और पंजाब सरकार आमने सामने आ गई है. नांदेड़ साहब से लौटे सिख श्रद्धालुओं के कोरोना संक्रमित निकलने की वजह से पंजाब में अचानक से कोरोना के मामले बढ़ गए. जिसके बाद पंजाब सरकार ने कहाराश्त्र सरकार पर ठिकड़ा फोड़ा. पंजाब में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 780 हो गई है. पिछले 72 घंटों में पंजाब में कोरोना के मामलों में 400 का इजाफा हुआ. इनमे से 391 तीर्थयात्री नांदेड़ साहब से लौटे हैं.

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह जो विवादित बयान देने के लिए मशहूर हैं. उन्होंने इसकी तुलना तबलीगी जमात से कर दी. लेकिन ऐसा करते हुए वो भूल गए कि दोनों ही राज्य में उन्ही की पार्टी की सरकार है. दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘सिख तीर्थ यात्रियों के कोरोना संक्रमित पाए जाने से पंजाब में खतरा पैदा हो गया है. क्या इसकी तबलीगी मरकज से कोई तुलना की जा सकती है?’

बताया जा रहा है कि पंजाब सरकार ने करीब 2000 श्रद्धालुओं की लिस्ट भेजी थी जो नांदेड़ साहब में फंसे थे. लेकिन महाराष्ट्र में करीब 2600 लोग वापस आये. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र सरकार ने बिना जांच किये ही श्रद्धुलों को पंजाब भेज दिया. महाराष्ट्र से श्रद्धालुओं को लाने के लिए 80 बसें भेजी गई थी.