मोदी को घेरने की कोशिश में दुल्हनों पर कुछ ऐसा बोल गए सिद्धू

399

लोकसभा चुनाव अपने अंतिम चरण की ओर  बढ़ चुका है … लेकिन इसके बीच बयान बाज़ी थमी नहीं है … पिछले दिनों ही अपने देखा कैसे PM मोदी पर कुछ न कुछ टिप्पणियां हो रही हैं… खैर यह तो  चुनाव का हिस्सा है…

मौका था चुनावी प्रचार का…इंदौर में प्रचार कर रहे थे सिद्धू….इसी दौरान कह गए कुछ ऐस जिससे काफी लोगों की मनोभाव को ठेस पहुच सकता है….

हालांकि सिद्धू अक्सर बयानबाजी किया करते है…और विवादित बयानों से उनका जनम जनम का साथ है…. लेकिन इन्हीं बयानबाजियों के बीच में नवजोत सिंह सिद्धू के एक बयान ने काफी कुछ सोचने पर मजबूर कर दिया है….वैसे पहले आपको बताते है क्या है वो बयान क्या है… दरअसल उन्होंने pm मोदी की आलोचना करते हुए यह कहा की…

मोदी उस दुल्हन की तरह हैं जो रोटी कम बेलती है और चूड़ियां ज्यादा खनकाती है. ताकि मोहल्ले वालों को ये पता चले कि वो काम कर रही है...”

भले ही सिद्धू का निशाना pm मोदी की तरफ था … लेकिन उन्होनें जिससे तुलना की है वो सही नहीं …

सिद्धू यह दर्शाना चाह रहे थे कि कि पिछले कार्यकाल में pm मोदी ने कुछ नहीं किया देश के लिए… बस लोगों को जताया है की वह काम करते है …. जैसे की नई दुल्हन की चूडियों की खनक से लोग समझते है की वह बहुत काम काजू है …

खैर अगर बात करें दुल्हनों की तो, सिद्धू जी को यह जान लेना चाहिए की दुल्हन बनना  कोई आम बात नहींa है … लडकियां अपना घर बार सब छोड़ किसी और के घर जाती है उनके  घर को सम्भालती है… शायद सिद्धू  जी के घर को भी किसी दुल्हन ने ही संभाला होगा…

हालांकि मैं दुल्हन की बात कर रही… सिद्धू ने तो चूड़ियों की  भी बात की थी … तो मैं यह बताना चाहूंगी की अगर दोनों हाथों में अगर 1 दर्ज़न भी चूड़ी कोई पहन ले तो हर बार उसकी खनक सुनाई देती … इसका मतलब यह नहीं की वह जान बुझ कर सुनाती …

वैसे ही अगर देश में कुछ काम हुआ है तो वो लोगों को दिखता है और नहीं हुआ तो लोगों को नहीं दिखता….

वैसे सिद्धू किसी रैली में जाए और विवादित  बयान ना दें… ये नामुमकिन है … कभी कभी तो लगता है सिद्धू को लोग पूर्व क्रिकेटर के जगह controversial स्टेटमेंट के लिए ज्यादा जानते है.

वैसे सिद्धू ने उस रैली में यह भी कहा कि ‘मैंने हीरो नम्बर वन, कुली नम्बर वन और बीवी नम्बर वन जैसी फिल्में देखी थीं। लेकिन इन दिनों मोदी की नई फिल्म आ रही है- फेंकू नम्बर वन।’ उन्होंने कहा, ‘मैं उन्हें झूठा नंबर वन, डिवाइडर इन चीफ और अंबानी और अडानी का बिजनस मैनेजर कहता हूं।’ 

वैसे इन बयानों में भी सिद्धू की insecurity चुनाव को लेकर झलक रही है … लेकिन इसी दौरान दुल्हनों को लेकर यह बयान ने कई औरतों के sentiments को ठेस पहुचाया है…वैसे तो ऊपरी तौर पर सिद्धू का यह बयान पूरी तरह राजनीतिक लगता है लेकिन कहीं न कहीं इसके तह में जाए तो ऐसा लगता है कि दुल्हनों को सिध्दू विपक्ष की तरह  नकारा समझते है…जाते जाते  सिद्धू जी को बस यह कहना चाहूंगी कि  आप अपनी राजनीति खेले, बयानबाजी भी करें… लेकिन यह भी याद रखें कि कल्पना चावला से लेकर माँ दुर्गा ने भी चूड़ियां पहनी और उनके कामों की गाथा गाने की ज़रुरत नहीं हमे…