भरी सभा में पुलिस वाले के जूते को क्यों चूमने लगे जगन मोहन रेड्डी के सांसद?

1431

वाईएसआर कांग्रेस (YSR Congress) और तेलुगू देशम पार्टी (TDP) के नेताओं के बीच इन इस वक्त काफी बवाल मचा हुआ है. इसी बवाल के बीच अब वाईएसआर कांग्रेस के एक सांसद का एक वीडियो इस समय सोशल मीडियाके जरिये सामने आया है. जिसमें सांसद महोदय एक पुलिस वाले का जूता चूमते नजर आ रहे हैं. आखिर क्या है इसके पीछे की कहानी? आइये जानते है.

दरअसल इन दोनों पार्टी के नेताओं की लड़ाई में अब वाईएसआर कांग्रेस के नेता गोरंतला माधव और टीडीपी नेता जेसी दिवाकर रेड्डी का नाम भी जुड़ गया है. इसी लड़ाई में टीडीपी नेता जेसी दिवाकर रेड्डी ने बुधवार को अनंतपुर में पार्टी की एक बैठक में कहा था कि टीडीपी के सत्ता में आने के बाद पुलिसवालों को अपने जूते चाटने होंगे. अब इस बात से हर कोई खफा था. यहाँ तक कि खुद पुलिस भी इस तरह के बयानों से नाराज दिखी.

इसके बाद पुलिस अधिकारीयों ने संघ से आपत्ति जताई और बिना शर्त माफ़ी मांगने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नही हुआ तो मानहानि का केस भी कर सकते है.आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में हिंदूपुर संसदीय क्षेत्र से आने वाले गोरंतला माधव ने रेड्डी के बयान के विरोध में शहीद पुलिसकर्मी के जूते पहले साफ किए उसके बाद उसे चूमा भी. माधव ने कहा अगर पार्टी आलाकमान उन्हें अनुमति दे तो मैं टीडीपी नेता को सबक सिखाने के लिए अपनी सीट से इस्तीफा देकर पुलिस विभाग में शामिल होने को तैयार हूं.

आपको बता दें कि गोरंतला माधव सांसद से पहले एक पुलिस अधिकारी थे. कादिरी पुलिस स्टेशन में इंस्पेक्टर के पद पर तैनात थे. माधव ने कहा कि टीडीपी नेता की ओर से पुलिसकर्मियों को लेकर की गई टिप्पणी बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. हालाँकि पुलिस पर टिप्पणी करने से पहले नेताओं को सोचना चाहिए. उनके लिए अपमानजनक शब्दों का प्रयोग करना कोई बहादुरी का काम नही है.