भाभी जी को मिल रही, रेप और जान से मारने की धमकी

545

टीवी की बेहतरीन ऐक्‍ट्रेसेस में से एक शिल्‍पा शिंदे ने हाल ही में जम्‍मू-कशमीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले पर पूर्व किक्रेटर और पॉलिटिशन नवजोत सिंह सिद्धू के बयान को सपॉर्ट किया।
शिल्पा ने सिद्धू का समर्थन करते हुए उन पर फिल्म और टीवी इंडस्ट्री के जरिए लगाए बैन को गलत बताया। शिल्पा के मुताबिक-‘हर इंसान को अपनी राय देने का अधिकार है। मुझे लगता है कि पाकिस्तानी कलाकारों के सिर्फ टैलेंट को देखते हुए उन्हें बॉलीवुड में काम करने देना चाहिए। किसी भी कलाकार पर बैन लगना गलत है, लेकिन अफसोस की बात है कि इस तरह के मामलों में सिंटा और इंडस्ट्री के दूसरे संस्थान एक साथ कलाकार के खिलाफ खड़े हो जाते हैं। मुझपर भी बैन लगाया गया था और मैं ये अच्छे से जानती हूं कि बैन लगने के बाद कैसा महसूस होता है।’

अब शिल्‍पा का आरोप है कि कि इस बयान के बाद जान से मारने और रेप की धमकी मिल रही है. इससे उनके फैंस खासे नाराज हैं। इसके बाद से उन्‍हें लगातार ट्रोल भी किया जा रहा है।
साथ ही कुछ ने तो उन्‍हें सोशल साइट्स के जरिए रेप की धमकियां भी दे डालीं। इसके बाद सुनने में आया कि वह उन सबके खिलाफ लीगल ऐक्‍शन लेंगी।हालांकि हाल ही में उन्‍होंने इस बात से इंकार किया है। उन्‍होंने कहा कि वह ऐसा कुछ भी नहीं करने जा रही हैं। कहा जा रहा था कि शिल्‍पा धमकी दे रहे लोगों पर लीगल ऐक्‍शन लेंगी। वहीं शिल्‍पा ने इस बारे में हाल ही में दिए एक इंटरव्‍यू में कहा कि उन्‍हें भी ऐसा सुनने में आया था। हालांकि उन्‍होंने ऐसा कुछ भी नहीं कहा है। वह किसी पर भी कोई भी लीगल ऐक्‍शन नहीं लेंगी। शिल्‍पा ने कहा कि उन्‍हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन क्‍या कहता है? उन्‍होंने कहा कि इन धमकियों का यह भी मतलब नहीं है कि वह डर कर अपने घर में बैठ जाएंगी। उन्‍होंने कहा जिसे जो कहना है, कहता रहे, वह किसी के खिलाफ कोई ऐक्‍शन नहीं लेंगी। हां यह जरूर है कि हमें इस बात पर गंभीरता से सोचना चाहिए कि हमारे देश में महिलाएं कितनी सुरक्षित हैं।

शिल्‍पा शिंदे अक्‍सर अपने बयानों के चलते सुर्खियों में बनी रहती हैं. हाल ही में शिल्‍पा शिंदे ने कांग्रेस पार्टी ज्‍वाइन की है. उनके ऐसा करने के बाद सोशल मीडिया पर उन्‍हें जमकर ट्रोल किया गया था. अब टीवी अभिनेत्री नवजोत सिंह सिद्धू का समर्थन करने को लेकर मुश्किल में पड़ गई है। शिल्पा हो या कोई भी महिला हो इस तरह की धमकी देना गलत है। चलिए मानते है आप उनके बयानों से खुश नही है, तो आप उनको दूसरे तरीके से विरोध दर्ज करा सकते है। बिना किसी गाली गलौज या धमकी के। सोचिए वही महिला अगर आपके घर की हो तो कैसा लगेगा। जाहिर है बुरा लगेगा, तो वैसा ही दूसरों के बारे में भी ख्याल रखिये। जोश में होश न खोइए।