ने’पोटिज्म पर शिल्पा शिंदे ने बयां किया द’र्द, कहा ‘फिल्म छोड़ो, टीवी के सीनियर एक्टर्स भी…’

452

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की अचानक मौ’त से उनके परिवार के साथ साथ उनके चाहने वालों को भी गहरा सदमा लगा है. जिससे लोग काफी दुखी भी है और सुशांत को इंसाफ दिलाने के लिए मांग भी कर रहे है. वही सुशांत के निध’न के बाद से बॉलीवुड और टीवी इंडस्ट्री में नेपो’टिज्म पर कई लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे है.

इसी के बीच अब बिग बॉस 11 की विनर अभिनेत्री शिल्पा शिंदे ने कहा कि नेपो’टिज्म की बात करें तो वो किसी एक फील्ड में नहीं बल्कि हर जगह है. अब एक्टर का बेटा एक्टर ही बनेगा, डॉक्टर का बेटा डॉक्टर ही बनेगा ना. किस नेपो’टिज्म की बात कर रहें है लोग मुझे समझ नहीं आता. हां लेकिन भे’दभाव तो है ही और इसे मैं खुद फेस भी कर चुकी हूं.

इसके अलावा उन्होंने अपने साथ हुए ब’र्ताव को लेकर कहा कि मैं तो एक बेस्ट एक्जा’म्पल हूं.  मुझे कहा जाता था इसके साथ काम मत करो. ग्रु’प में काम चलता था. मैं इन सब चीजों को फेस कर चुकी हूं.  चैनल और प्रोडक्शन हाउस ने मुझे बै’न किया.  मेरे साथ यही हुआ. मुझे 20-20 नोटिस आते थे कि तुम्हारी वजह से हमारा नुकसान हुआ है तुम पैसे दो.  मैं भी बहुत परेशान थी भाबीजी घर पर हैं के वक्त जो भी हुआ मेरे साथ उससे.

इसके अलावा उन्होंने कहा कि इस दौरान मैंने सर द’र्द की गोली 3-4 बार खाई थी और मैं 9 घंटे बस सो ही रही थी, मैं अपने घर पर छुपकर बैठी रहती थी. भाबीजी की प्रोड्यूसर ने बहुत तमाशा किया था और मैं बहुत परेशान हो चुकी थी, लेकिन कोई भी इसको नहीं समझ सकता.

साथ ही उन्होंने ने’पोटिज्म पर कहा कि ये तो हर फील्ड में होता है. इंडस्ट्री की रि’यलिटी ही यही है यहाँ भेदभाव की बात करें तो फिल्म छोड़ो, टीवी के सीनियर एक्टर्स भी जूनियर्स पर सेनिओरिटी झा’ड़ते हैं. जाहिर है सुशांत की मौ’त के बद अब स्टार्स भी इंडस्ट्री के काले सच को सामने आने की कोशिश कर रहे है.