पुलिस पूछताछ में खुलासा : भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाना चाहता है शरजील इमाम

गिरफ्तारी के बाद पुलिस शरजील इमाम से काफी सख्ती से पूछताछ कर रही है. पूछताछ में शरजील के खुलासे और मकसद सुन कर पुलिस के भी होश उड़ गए हैं. पुलिस सूत्रों का कहना है कि पूछताछ में सामने आया कि शरजील भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाना चाहता है. पुलिस सूत्रों ने बताया है कि शरजील कट्टरपंथ से बहुत ज्यादा प्रभावित है और उसे गिरफ्तारी का कोई मलाल नहीं है. पुलिस सूत्रों ने ये भी बताया कि शरजील इमाम कट्टरपंथी है और मानता है कि भारत को इस्लामिक देश होने चाहिए. उसने ये भी स्वीकार कर लिया है कि भाषण उसी ने दिया है और उसे भाषण देने का कोई मलाल भी नहीं है.

पुलिस सूत्रों ने ये भी कहा कि शरजील को अपनी गिरफ्तारी का कोई मलाल नहीं है. पुलिस अब ये छानबीन कर रही है कि इस्लामिक यूथ फेडरेशन ऐंड पॉप्यूलर फ्रंट ऑफ इंडिया से शरजील का कोई सम्बन्ध है कि नहीं. शरजील ने कहा कि उसने पूछताछ में बताया कि जैसे ही उसे पता चला कि उसके खिलाफ FIR दर्ज हो गई है, वो अंडरग्राउंड हो गया. 25 जनवरी को फुलवारी शरीफ में CAA के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन में भाषण देने पहुंचा था तभी उसे पता चला कि उसके खिलाफ FIR दर्ज हो गई है. उसके बाद वो तुरंत जहानाबाद के अपने पैत्रिक गाँव काको पहुंचा. उस गाँव में शरजील के परिवार का बहुत दबदबा है इसलिए किसी ने उसे कुछ नहीं कहा. उसके बाद चार दिनों तक वो मोबाइल बंद कर गाँव में ही छुपा रहा.

पुलिस के मुताबिक़ वो अपने गाँव के इमामबाड़ा में छुपा हुआ था. इमामबाड़ा का इस्तेमाल ताजिया रखने के लिए करते हैं. पुलिस के मुताबिक़ अगर पुलिस अन्दर जाती तो काफी बखेड़ा खड़ा होता और माहौल बिगड़ने की आशंका थी इसलिए उसके बाहर आने का इंतज़ार किया गया. उसे बाहर लाने के लिए उसी के पहचान वाले लोगों की मदद ली गई. जैसे ही वो इमामबाड़ा से बाहर निकला, पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया.

Related Articles