शाहीन बाग़ में प्रदर्शनकारियों ने श’वयात्रा निकालने की दी इजाजत, यूँ दिखाना मानों किया हो अहसान

1514

शाहीन बाग़ में दो महीनों से सड़क पर कब्जा कर के बैठे प्रदर्शनकारियों ने रविवार को एक श’वयात्रा को निकालने के लिए रास्ता दिया या यूँ कहें कि इजाजत दी. उसके बाद इस घटना का वीडियो वायरल कर लिबरल और वामपंथी गैं’ग ने सोशल मीडिया पर ये जताने की कोशिश की मानों उन्होंने श’वयात्रा निकालने की इजाजत दे कर अहसान किया हो. लिबरल गैंग के बाद मीडिया पर इस घटना के बाद प्रदर्शनकारियों के क़दमों में बिछ गया और इसे हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल बताने लगा. जबकि इन्ही प्रदर्शनकारियों ने पिछले महीने एक एम्बुलेंस को रास्ते से निकलने नहीं दिया था क्योंकि वो सड़क पर कब्ज़ा कर प्रदर्शन करने बैठे थे.

बीते दो महीनों से शाहीन बाग़ देश का वो हिस्सा बन गया है जहाँ प्रवेश के लिए प्रदर्शनकारियों की इजाजत लेनी पड़ती है. अगर आप बिना इजाजत चले गए तो आपकी लिं’चिंग भी हो सकती है. इसके अलावा अगर आप मीडिया से हैं तो बाकायदा वहां इंट्री के लिए फॉर्म भरवाए जाते हैं. पूछ जाता है कि आप किसी चैनल से हैं, आपका यहाँ आने का मकसद क्या है? सड़क पर कब्ज़ा कर उसे पूरी तरह से बंद कर दिया गया है जिस कारण कोई उस रस्ते से नहीं गुजर सकता. यूँ कहें कि देश की राजधानी दिल्ली में शाहीन बाग़ एक ऐसी जगह बन गया है जहाँ जाने के लिए आपको विशेष इजाजत लेनी पड़ेगी. शाहीन बाग़ देश के अन्दर ही एक अलग देश बन गया है.