महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर वामदलों के बाद अब इन दो पार्टियों ने तेजस्वी यादव की बढाई टेंशन!

69

बिहार चुनाव को लेकर सर’ग’र्मी तेज़ होती नज़र आ रही है. चुनाव आयोग की तरफ से अभी तक तिथि का ऐलान नहीं हुआ हैं. लेकिन बिहार के सियासी गलियारों में हलचल तेज़ होने लगी हैं. बिहार से हर रोज कोई न कोई खबर आती ही रहती हैं. बिहारवासियों को तोहफे पर तोहफे मिल रहें हैं फिर चाहे वो केंद्र सरकार की तरफ से हों या राज्य सरकार की तरफ से रोज़ कुछ न न कुछ मिलता रहता हैं.

दूसरी तरफ वि’प’क्ष का भी सर द’र्द बढ़ता जा रहा हैं. सीट शेयरिंग को लेकर म’हा’गठबं’ध’न में टेंशन बढती जा रही है. जिसको देखते हुए तेजस्वी यादव ने इसकी कमान अपने हाँथ में ले लिया हैं. इस क्रम में जहां राष्ट्रीय लोक समता पार्टी की ओर से संकेत दिए जा रहे हैं कि वह तेजस्वी यादव को अपना नेता मानने को तैयार नहीं है. RLSP प्रवक्ता धीरज कुशवाहा ने कहा है कि ‘तेजस्वी यादव RJD की तरफ मुख्यमंत्री के उम्मीदवार हैं न कि म’हा’गठबं’धन की ओर से अभी मुख्यमंत्री के नाम पर महागठबं’धन में कोई बात नहीं हुई है. महागठबं’धन में CM के सबसे योग्य चेहरा उपेंद्र कुशवाहा हैं. उनके पास लंबा राजनीतिक अनुभव है और उन्होंने बिहार के मुद्दे पर पद का त्याग किया है. बिहार के बड़े और अनुभवी नेताओं में उनका नाम आता है.’

दूसरी तरफ विकासशील इनसान पार्टी ने भी मौके पर चौका मा’रने की तैयारी में है उसको जहाँ  दिखा की RLSP ने ब’गा’वत शुरू की वहीँ उसने भी डिप्टी सीएम के लिए दावेदारी ठोंक दी है. जिसके बाद अब तेजस्वी यादव के लिए सर द’र्द और भी बढ़ गया है. अभी कुछ दिन पहले वामदलों ने भी सीट शेयरिंग को लेकर तनातनी चल रही हैं. अब महागठबंधन में सीट को लेकर क्या होता है आगे ये देखने वाली बात होगी?