राजद और वामदलों के बीच सीट शेयरिंग को लेकर खीचतान शुरू,तेजस्वी यादव ने संभाली कमान

बिहार चुनाव को लेकर माहौल पूरी तरह से बन चूका हैं. हर पार्टी बिहार के अंदर अपने अपने वोटरों को रुझाने में लगी है. इस समय बिहार के अंदर पूरी तरह से चुनावी माहौल बना हुआ है. इस क्रम में पीएम मोदी ने बिहार के लोगों के लिए सौगाते दे रहें है. कल पीएम मोदी ने 9 परियोजनाएं का उद्घाटन किया है. पीएम मोदी के अलावा सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी बिहार के लोगों के लिए सौगात का पिटारा खोल दिया है.

बिहार में दूसरी तरफ राजनीति ग’रमा’ती जा रही है. म’हा’ग’ठ’बं’ध’न में सीट बंटवारे को लेकर खी’च’ता’न शुरू हो गई है. दो दिन पहले सीपीआई ML के अध्यक्ष दीपाकंर भट्टाचार्य ने भी महा’गठ’बंध’न को चुनौती दी है. इतना ही नहीं वा’म’द’लों ने भी सीट शेयरिंग को लेकर म’हागठबं’ध’न की टें’श’न बढ़ा दी है. वहीँ वामदल सीट आवंटन का खुलासा चाहते हैं. वहीं राजद अभी मुठ्ठी खोलने के लिए तैयार नहीं है. इस मामले में पूरी सतर्कता बरत रहा है.

जानकारी के मुताबिक माले के महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य और राजद आलाकमान के बीच सीधी बातचीत हो रही है. इस मामले में ‘राजद ने सीपीआइ और सीपीएम से भी अ’नौप’चा’रि’क तौर पर आग्रह किया है कि वह भाकपा माले से बात कर सीट साझेदारी को साफ कराये. दरअसल सीपीआइ और सीपीएम अलग मांग कर रहे हैं. माले सीटों का कोटा अन्य वाम दलों से इतर मांग रहा है. माले राजद का पुराना साझीदार रहा है. जानकारों के मुताबिक राजद माले को खोना नहीं चाहता है.’

इससे पहले सीपीआई ML  के अध्यक्ष दीपांकर भट्टाचर्या ने 53 सीटों की लिस्ट दी है. जिसपर हम लम्बे समय से चुनाव लड़ते आ रह हैं. अब देखना ये है की म’हागठ’बंध’न  में सीट शेयरिंग को लेकर क्या होता है. क्या बात बन पायेगी या नहीं?

Related Articles