SBI ने अपने 44 करोड़ ग्राहकों को दिया ये बड़ा तोहफा

837

केंद्र में बीजेपी की सरकार आने के बाद से पीएम मोदी ने देश की जनता को लेकर कई बड़े ऐलान किये हैं. बैंकों की दशा को सुधारने के लिए मोदी सरकार एक के बाद एक बड़ा कदम उठा रही है जिससे ग्राहकों को फ़ायदा मिल सके. अभी हाल ही में मोदी सरकार ने 10 बड़े बैंकों को मर्ज करके 4 बड़े बैंक बनाने का फैसला लिया है. सरकार के इस कदम के बाद से ये भारतीय बैंक विश्व की बड़ी बैंकों में शामिल हो जायेंगे. इससे पहले sbi मे भी और बैंक को मर्ज किया गया था.

जानकारी के लिए बता दें स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया ने अपने ग्राहकों को राहत देते हुए बहुत बड़ा ऐलान किया है जिसे जानकर हर कोई खुश हो जायेगा. SBI बैंक के इस कदम के बाद 44 करोड़ ग्राहकों को इसका फ़ायदा मिलेगा. जी हाँ SBI ने अपने ग्राहकों को राहत देते हुए मिनिमम बैलेंस चार्ज का झंझट खत्म कर दिया है. SBI के इस फ़ैसले के बाद सेविंग अकाउंट में ग्राहक को मिनिमम बैलेंस चार्ज नहीं देना पड़ेगा.

सबसे बड़ी बात ये है कि अब ग्राहक बैंक के अकाउंट में अपनी मर्जी के हिसाब से बैलेंस रख सकेंगे इसके लिए उनसे किसी भी तरह का चार्ज नहीं लिया जायेगा. इतना ही नहीं बैंक ने ग्राहकों को एक और बड़ा तोहफा देते हुए SMS चार्ज को भी माफ़ कर दिया है. पिछले काफी समय से स्टेटे बैंक ऑफ़ इंडिया की मिनिमम चार्ज वसूली को लेकर आलोचना हो रही थी.

गौरतलब है कि अब ग्राहकों को ऐसा कोई चार्ज नहीं देना होगा. वर्तमान में SBI अलग-अलग कैटेगरी के अकाउंट खोलता है जिसमें 1000 रूपये से लेकर 3000 रूपये तक मेंटेन करने होते थे. मेट्रो सिटी में रहने वाले SBI ग्राहकों को मिनिमम बैलेंस के तौर पर 3 हजार रूपये रखने होते थे वहीं सेमी अर्बन सेविंग अकाउंट होल्डर को 2000 रूपये और रूरल यानी कि गाँव से आने वाले लोगों को 1000 रूपये रखने होते थे. पहले मेंटेन नही करने पर 5 से लेकर 15 रूपये तक की पेनल्टी लगा दी जाती थी.