सावरकर-गोडसे में सम्बन्ध पर चक्रपाणी महाराज का पलटवार, राहुल गाँधी के बारे में कही ये बात

1385

सावरकर के बारे में कांग्रेस सेवादल की आपत्तिजनक किताब के सामने आने के बाद सियासी ब’वाल मच गया. न सिर्फ भाजपा बल्कि शिवसेना और हिन्दू महासभा भी कांग्रेस पर हम’ला’वर हो गई. शिवसेना ने इसे सावरकर का अपमान बताया. संजय राउत ने कहा, शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि सावरकर महान थे और महान रहेंगे. उन्होंने कहा कि जो उनकी आलोचना करते हैं उनके दिमाग में गंदगी भरी हुई है. उनके दिमाग की गन्दगी ये दिखाता है कि वे किस हद तक गिर सकते हैं.

हिन्दू महासभा के अध्यक्ष चक्रपाणी महाराज ने सावरकर पर इस विवादास्पद किताब को बेहूदा बताया और उन्होंने राहुल गाँधी को निशाने पर ले लिया .चक्रपाणी महाराज ने भड़कते हुए कहा, ‘यह हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष सावरकरजी के खिलाफ बिल्कुल बेहूदे आरोप हैं. इसी तरह हमने भी सुना है कि राहुल गांधी हो’मोसे’क्शुअल हैं.’

केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि वे सावरकर को गाली देते हैं क्योंकि उनके आदर्श जिन्ना हैं. बीजेपी की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने सावरकर को लेकर सोनिया और राहुल गांधी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है. साथ ही उन्होंने सोनिया गांधी और राहुल गाँधी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह दिन दूर नहीं जब गांधी परिवार जय श्रीराम और भारत माता की जय बोलेगा.

‘वीर सावरकार, कितने वीर’ नाम की ये किताब भोपाल में आयोजित कांग्रेस सेवादल की 10 दिवसीय ट्रेनिंग कैंप में बांटी गई थी. इस किताब में सावरकर के बारे में कई आपत्तिजनक बातें लिखी थी. इसमें ये भी लिखा था कि सावरकर और गोडसे के बीच शारी’रिक सम्बन्ध थे.