भड़के सावरकर के पोते ने कहा कि कांग्रेस का साथ छोड़ दो शिवसेना, अपमान बर्दास्त नही!

1622

शनिवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस की तरफ से भारत बचाओ रैली का आयोजन किया था. इस रैली में देश के अलग अलग हिस्सों से कार्यकर्ता पहुचे थे. इस रैली में कांग्रेस के लगभग सभी बड़े नेता शामिल हुए थे. इसी रैली में राहुल गाँधी नेसावरकर को लेकर बयान दिया है जो अब विवादित हो गया है. अब सावरकर के पोते राहुल गाँधी पर भड़क गये है.

दरअसल राहुल गाँधी के रेप इन इंडिया वाले बयान पर बीजेपी माफ़ी की मांग कर रही है. इसी पर रैली में राहुल गाँधी ने कहा कि मेरा नाम राहुल सावरकर नही है, मेरा नाम राहुल गाँधी है और मै माफी नही मागुंगा. राहुल गाँधी इस बयान के बाद बीजेपी ने कांग्रेस पर हमला किया. शिवसेना ने भी अपना विरोध जताया और अब सावरकर के पोते रंजीत सावरकर ने भी अपना विरोध जताया है.

रंजीत सावरकर ने कहा कि राहुल गांधी के बयान के खिलाफ हाईकोर्ट में मानहानि का मुकदमा दर्ज करेंगे. रंजीत ने सोमवार को राहुल के खिलाफ केस दर्ज कराने की बात कही है. राष्ट्रीय चेहरों का अपमान करना कांग्रेस के लिए नई बात नहीं है. महान नेताओं का अपमान करना कांग्रेस के डीएनए में है. उन्होंने उद्धव सरकार से मांग की कि सावरकर का अपमान करने के लिए राहुल गांधी के खिलाफ FIR दर्ज की जानी चाहिए और उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए

रंजीत सावरकर ने आगे कहा कि “मैं शिवसेना से अपील करता हूं कि कांग्रेस नेताओं को मंत्रीपद से हटाया जाए, मेरी इच्छा है कि महाराष्ट्र में सरकार में कांग्रेस को शामिल नहीं किया जाए. इसके बावजूद सरकार नहीं गिरेगी. बीजेपी और शिवसेना सरकार बना सकते हैं, सरकारें आती-जाती है लेकिन ऐसा अपमान बर्दाश्त नहीं करना चाहिए.”