उत्तराखंड में कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज समेत इतने लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से मचा हड़कंप !

भारत में कोरोना का कहर थम नहीं रहा है. हर दिन मरीजों की संख्या एक नया रिकॉर्ड बना रही है. केंद्र सरकार और राज्य सरकारें मिलकर एक के बाद एक बड़े कदम उठा रहे हैं ताकि इस महामारी से लोगों को बचाया जा सके लेकिन इसके बावजूद भी मरीजों की संख्या थमने का नाम नहीं ले रही है. भारत में अब कोरोना के मरीजों की संख्या 1 लाख 83 हजार के पार हो गयी है. इसी बीच एक बड़ी खबर उत्तराखंड से आ रही है.

जानकारी के लिए बता दें उत्तराखंड सरकार में कैबिनेट मंत्री सतपाल जी महाराज की पत्नी अमृता रावत की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद हड़कंप मच गया था क्योंकि सतपाल महाराज ने शुक्रवार को ही कैबिनेट मीटिंग में हिस्सा लेकर सभी से बातचीत की थी. इसी बीच सबसे ज्यादा हैरान करने वाली खबर अब ये आ रही है कि सतपाल महाराज की पत्नी अमृता रावत की रिपोर्ट आने के बाद अब उनकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है.

इतना ही नहीं महाराज का बेटा बहू समेत 22 कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जिसके बाद उत्तराखंड में हड़कंप मच गया है. ऐसा पहली बार हुआ है जब पूरी सरकार ही कोरोना के घेरे में आ गयी हो. दरअसल शुक्रवार को सचिवलाय में आयोजित कैबिनेट बैठक में सतपाल महाराज शामिल हुए थे और इस बैठक में स्वयं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी शामिल थे. जिसके बाद सतपाल महाराज ने पर्यटन विभाग की बैठक में भी शिरकत थी.

गौरतलब है कि अब रिपोर्ट सावर्जनिक होने के बाद सभी के पसीने छूट गये हैं. इस बीच सबसे बड़ा सवाल ये उठ रहा है कि महाराज के कैबिनेट सहयोगियों समेत उनसे मिलने वाले तमाम लोगों को क्वारंटाइन किया जायेगा जिनके वो संपर्क में आये हैं? प्रोटोकॉल तो यही कहता है कि अगर ऐसा होता है तो शासन में बैठे सभी अफसरों के सैम्पल लिए जा सकते हैं जो कैबिनेट मीटिंग से लेकर पर्यटन विभाग की बैठक में शामिल हुए थे. सतपाल महाराज की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद शासन ने हाईलेवल की कमेटी की बैठक शुरू हो गयी है. वहीँ उनकी पत्नी अमृता रावत को ऋषिकेश स्थित एम्स में भर्ती किया गया था.