सारा अली खान और उनकी मां को आखिरकार क्यों जाना पड़ा पुलिस थाने ?

521

बॉलीवुड फिल्म ‘केदारनाथ’ से डेब्यू करने वाली सारा अली खान आजकल सुर्खियों में बनी हुई हैं । लोग उनकी बातों के दीवाने हो गए है. सारा अली खान ने अपने व्यवहार और खुबसुरती से सबको इम्प्रेस कर दिया है । लेकिन हाल ही में सारा अली खान पुलिस थाने में दिखाई दी है जिससे उनके फैंन काफी दुखी हो गए है. बता दें, सारा अली खान और उनका परिवार मुसीबत में पड़ गया है। बीते 19 जनवरी के शाम सारा अली खान और उनकी मां अमृता सिंह ने देहरादून पुलिस से शिकायत की है ।


सारा अली खान और अमृता सिंह ने देहरादून के क्लेमेंटाउन पुलिस में एक भू-माफिया के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है। सारा अली खान और उनकी मां ने पुलिस से शिकायत कर कहा है, ‘देहरादून में उनके मामा की करोड़ों रुपये की ज़मीन है। इस प्रॉपर्टी पर भू-माफिया की नजर है। वे इस पर कब्ज़ा कर सकते हैं।’


बता दें, 19 जनवरी को अभिनेत्री अमृता सिंह के मामा लेखक मधुसूदन बिम्बेट का देहांत हो गया । वह काफी लंबे समय से कैंसर से पीड़ित थे । मौत के बाद उनकी करोड़ों की संपत्ति पर विवाद गरमा गया है । मामा की मौत की खबर सुनकर अमृता और सारा अली खान देहरादून गई थीं । अमृता सिंह ने उनका अंतिम संस्कार किया और थाने पहुंचकर पुलिस थाने में एक लिखित शिकायत दर्ज कराई। उन्‍होंने कहा है की उनके मामा अकेले रहते थे और उनकी प्रापर्टी पर भू माफिया की नजर है। अमृता सिंह ने पुलिस से गुजारिश कि जब तक उनके परिवार के अन्य लोग यहां न पहुंचें, पुलिस उनकी प्रॉपर्टी की सुरक्षा करे ।


अमृता सिंह की मां का निधन हो चुका है। ऐसे में अमृता के मामा मधुसूदन के निधन के बाद उनकी करोड़ों की प्रॉपर्टी का मौसी के अलावा कोई वारिस नहीं है। अमृता सिंह के मामा के देहरादून में ग्राफिक एरा विश्वविद्यालय के बराबर में की करीब साढ़े चौबीस बीघे में करोड़ों की संपत्ति है ।

केयरटेकर ने अमृता सिंह पर लगाया आरोप

मधुसूदन के केयरटेकर खुशीराम जो कि सालों से प्रॉपर्टी को देख रहे थे, ने पुलिस को एक ऐप्लिकेशन दी है। जिसमें उन्होंने कहा है कि मधुसूदन ने प्रॉपर्टी को लॉक कर दिया था ताकि वहां कोई न आ सके । केयरटेकर के अनुसार अमृता सिंह और उनके मालिक मधुसूदन के बीच मधुर सबंध नहीं थे, इसी बाबत शेरसिंह ने भी पुलिस को एक एप्लीकेशन दी है।उन्‍होंने अमृता सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा है कि जब तक मधुसूदन बीमार थे और उन्‍हें लोगों की जरूरत थी तब तक कोई उनकी मदद के लिए नहीं आया और अब कोठी की चाबी लेने के लिए अमृता सिंह गा गई हैं। लेकिन अमृता सिंह ने कब्जे के आरोप को गलत बताते हुए केयरटेकर की बातों को नकार दिया है.