शिवसेना के इस नेता ने स्वीकार किया ‘मैंने की थी दाऊद इब्राहिम से मुलाकात’

1565

महाराष्ट्र की राजनीति में संजय राउत के बयान से महाराष्ट्र में हल-चल मच गई है. शिवसेना सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने एक इंटरव्यू में उदयनराजे भोसले पर हमले से लेकर दाऊद से मुलाकात तक कई मु’द्दों पर बेबाकी से अपनी बात को सामने रखा है. राउत ने ये भी खु’लासा किया कि उन्होंने एक बार मुंबई ब’म ध’माके के आ’रोपी दा’ऊद इ’ब्राहिम से मुलाकात की थी. शिवसेना की तरफ से ये बयान दिखाता है कि उसकी सोच क्या है. ये वही पार्टी है जो बीजेपी के साथ गठबंधन में रहकर हिन्दुत्व का राग अलापने वाली शिवसेना का चेहरा अब सबके सामने आ रहा है. 

राउत ने आगे भाजपा नेता उदयनराजे भोसले को नि’शाने पर लेते हुए कहा कि वह सबूत दें कि वो छत्रपति शिवाजी के वंशज हैं. उन्होंने कहा कि मराठा यो’द्धा शिवाजी पर किसी का एकाधिकार नहीं है. शिवाजी महाराज एक भगवान की तरह थे और कोई उनकी पूजा करने की इजाजत नहीं लेते है.

राउत ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार की भी जमकर तारीफ की और कांग्रेस नेता राहुल गांधी को नसी’हत दे डाली. राउत ने शरद पवार को ‘जाणता राजा’ करार देते हुए कहा कि महाराष्ट्र की जनता ने भी उन्हें यही नाम दिया है. 

दरअसल, राउत ने एक चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि मैंने 1993 मुंबई सी’रियल ध’माके में प्रमुख आ’रोपी दा’ऊद इ’ब्राहिम से भी मुलाकात की थी और उसे ल’ताड़ लगाई थी. उनके इस बयान के बाद अभी तक किसी भी राजनीतिक दल की ओर से की भी बयान जारी नही किया गया है. उनके सहयोगी दल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को सलाह देते हुए राउत ने कहा कि कांग्रेस नेता को रोज 15 घंटे पार्टी दफ्तर में मौजूद रहना चाहिए.