कृषि बिल के विरोध के चलते पूर्व कांग्रेसी नेता संजय झा ने ही खोली अब कांग्रेस की पोल, जानिए

819

केंद्र सरकार द्वारा लाये गए कृषि बिल को लेकर विपक्षी दल जमकर हंगामा काट रहे हैं और इसका विरोध कर रहे हैं. किसानों के हित को देखते हुए सरकार ने कई बिल पास किये हैं जिनसे उनको फायदा पहुंचने की बात कही जा रही है लेकिन कांग्रेस लगातार इस बिल का विरोध कर रही है.

जानकारी के लिए बता दें कृषि बिल का विरोध होने के चलते पीएम मोदी ने खुद बड़ी बात कही है. उन्होंने कहा है कि अब भी लोग बिचौलियों का साथ दे रहे हैं. पीएम मोदी का कहना है कि किसानों को विपक्ष द्वारा इस बिल को लेकर बहकाया जा रहा है. आप लोग किसी के बहकावे में न आएं इससे आपको ही फायदा होगा.

कांग्रेस के जबरदस्त विरोध के बीच उनकी ही पार्टी से निलंबित नेता संजय झा ने कांग्रेस को लेकर बड़ा बयान देकर एक नई मुसीबत खड़ी कर दी है.संजय झा ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि ‘कृषि संबंधी बिलों को लेकर कांग्रेस और बीजेपी में कोई अंतर नहीं है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार वही कर रही थी जिसका कांग्रेस ने 2019 के लोकसभा चुनाव में वादा किया था.’

गौरतलब है कि अक्सर कांग्रेस मोदी सरकार के बिलों का विरोध करती आयी है, अब कांग्रेस नेता रहे संजय सिंह ने ही उनकी पोल खोल दी है. इससे पहले उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तु, (संसोधन) विधेयक, 2020 तीनों बिलों में से एक UPA के इरादे के अनुरूप थे. उन्होंने कहा कांग्रेस की तरफ से लाये गए मल्टी ब्रांड FDI में इससे फायदा होगा.

संजय झा ने कहा कांग्रेस ने जो वादा अपने घोषणा पत्र में किया था उसे मोदी सरकार ने पूरा कर दिया है. उन्होंने कहा साल 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने 11 वें, 12 वें और 21 वें पॉइंट में कहा था कि एपीएमसी अधिनियम को खत्म करने और कृषि उत्पादों को बंधन मुक्त करने की बात कही थी. अब मोदी सरकार ने ये काम कर दिया है तो कांग्रेस इसका विरोध कर रही है.