को’रोना को लेकर ओवैसी की बदजुबानी फिर आई सामने, बीजेपी ने किया पलटवार कहा कि…

2564

आज को’रोना जैसी म’हामा’री ने पूरे देश को झक’झोर के रख दिया है. आज को’रोना जैसी म’हामा’री की चपेट में  कई देश आ चुके हैं और इस भ’यान’क बिमारी से लड़ भी रहे हैं. भारत सरकार देश की जनता के लिए हर भरसक प्रास कर रहा है.. देश में जिस हिसाब से को’रो’ना फैल रहा है. उसको रोकने की जगह यहां पर वामपंती संगठन के लोग राजनिती कर रहे है. वहीं कुछ लोग को लगता है कि को’रो’ना हमको नही होगा तो हम सड़क पर आराम से घुम-फिर सकते है. कुछ ऐसे ही हा’लात देश की राजधानी दिल्ली से सामने आये हैं. दिल्ली के निजामुद्दीन म’रकज के इस कांड ने देश के अदंर से हजारो कोरोना मरीजो की संख्या बढ़ा दी है. लेकिन मानने को तैयार नही है. तब’लीगी जमात के लोग भारत सरकार पर आ’रोप म’ड रही है. लेकिन इसमे तो हाथ केजरीवाल का लग रहा है. क्योंकि केजरावील ने कहा थी की दिल्ली के अंदर 5 लोगों से ज्यादा लोग एक साथ इ’कट्ठा नही हो सकते लेकिन उसके बाद भी तब’लीगी जमात के 2000 से ज्यादा लोग वहां कैसे पहुंचे इसका जवाब कौन देगा? इससे इनकी जाहिलियत साफ नज़र आ रही है और इन लोगों ने पीएम मोदी के लॉकडाउन का पूरी तरह से मज़ाक बना डाला है.

हजरत निजामुद्दीन इलाके में हुई तब’लीगी मरकज में हिस्सा लेने के बाद सैकड़ों लोग को’रोना से संक्रमित पाए गए हैं. एक ओर जहां जमात में शामिल लोगों की तलाश के लिए अधिकारी तमाम कोशिशों में जुटे हैं, वहीं इस मामले पर अब सियासत भी शुरू हो गई है. ऑल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुसलमिन (एआईएमआईएम) के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने को’रोना से मरने वालों का दर्जा शहीद के बराबर होने की बात कही है, क्योकि जितने भी वा’मपं’थी संग’ठन है. उनको आज भी तब’लीगी जमात के लोगों ने जो किया उसमे उनकी गलती नज़र नही आ रही है.

दरअसल ओवैसी हमेशा देश वि’रोधी ब’यानबा’जी के लिए जाने जाते है. देश के अंदर इतना बड़ी आ’फत आई है. लेकिन इन लोगों से देश के लिए एक पैसा भी इनकी जेब से बाहर नही आया, और इन लोगों से उम्मीद भी नही की जा सकती है. वैसे तो बहुत बड़ी बाते करते है. कि आज देश ख’तरे में हैं हम लोग उसको बचाने की कोशिश कर रहे है. एक टीवी इंटरव्यू में औवैसी की ब’दजुबा’नी फिर से सामने आ ही गई. औवैसी ने कहा कि जो भी लोग को’रोना के कारण जा’न गंवा रहे हैं, ‘उन्हें श’हीद कहा जाएगा. ऐसे लोगों को अं’तिम संस्का’र के पहले क’फन की आवश्यकता नहीं है और उन्हें म’रने के बाद तत्का’ल द’फ्न किया जाना चाहिए’ को’रोना के कारण जा’न गं’वाने वालों को ऐसे संबोधन को लेकर बीजेपी ने मामले को तू’ल देना शुरू कर दिया है.

बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने ओवैसी के बयान पर कहा कि ‘क्या ये श’हादत की नई परिभाषा है. क्या आप उन लोगों को संक्रमण फैलाने के लिए उक’सा रहे हैं जो कि निजामुद्दीन की तब’लीगी जमा’त में हिस्सा लेकर लौटे हैं. आज अफसोस होता है जब देश के अंदर इतनी बड़ी आ’पदा आने के बाद भी वा’मपं’थी लोग अपनी राजनिती की रोटियां सेक रहे हैं. ऐसे वक्त में तो सबको मिलकर देश के लिए लड़ना चाहिए. भारत की संस्कृति है गंगा-जमुनी तहज़ीब जो विश्व में विख्यात है. लेकिन ऐसे लोगों की वजह से आज देश इस म’हामा’री से अकेले लड़ रहै है. आये दिन को’रोना मरीजो की संख्या बढ़ रही है. उसपर ये वा’मपं’थी कुछ नही बोलेंगे. ये देख कर अफसोस होता है.