ताजमहल में लहराया भगवा झंडा और लगे जय श्री राम के नारे, चार लोगों को किया गया गिरफ्तार

134

अक्सर ये दावा किया जाता है कि ताजमहल दरअसल में एक हिन्दू मंदिर था. इउस दावे में कितनी सच्चाई है ये तो अब तक सामने नहीं आई लेकिन सोमवार को कुछ हिंदूवादी नेताओं ने ताजमहल परिसर में भगवा झंडा लहरा कर हड़कंप मचा दिया. न सिर्फ भगवा झंडे लहराए गए बल्कि जय श्री राम के नारे भी लगाए गए. घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. इस संबंध में चार लोगों को हिरासत में लिया गया है.

बताया जा रहा है कि हिंदूवादी नेता भगवा झंडा अपनी जेब में लेकर ताजमहल में घुसे थे. परिसर में पहुँच कर वो कुछ देर घूमते रहे. फिर वो बेंच पर बैठे और अपनी जेब से निकाल कर भगवा झंडा लहरा दिया. ये दृश्य देख कर वहां हड़कंप मच गया. ताजमहल की सुरक्षा में तैनात सीआईएसएफ के जवानों ने झंडा लहराने वालों को पकड़ लिया और ताजगंज पुलिस के हवाले कर दिया. सभी लोगों के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने और उन्माद भड़काने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है.

खबरों के अनुसार ताजमहल परिसर में भगवा झंडा लहराने वाले हिन्दू जागरण मंच के सदस्य थे. इससे पहले भी एक शख्स ने ताजमहल में शिव चालीसा का पाठ किया था. कितनी अजीब बात है कि जब कोई मुस्लिम मंदिर में घुस कर नमाज पढता है तो उसे सेक्युलरिज्म और धार्मिक समरसता की मिसाल बताया जाता है लेकिन जैसे ही कोई हिन्दू ताजमहल में घुस पर भगवा झंडा लहराता है तो हड़कंप मच जाता है. धार्मिक समरसता भी सिर्फ एक धर्म की तरफ से की गई हरकत से ही आती है.