साधुओं को मारने पहुंचा था सीरियल किलर कुंभ में,पुलिस को बताया, कहां-कहां किनको मारा

538

के के मेनन की एक फ़िल्म है the stonemans murders, शायद आप मे से बहुत से लोगो ने देखा हो शायद नही देखा हो… इस फ़िल्म के बारे में जरा सा आपको बता दूं… ये फ़िल्म एक साइको किलर पर बेस्ड है जो फुटपाथ पर सो रहे लोगो को मारता है…उनका सर पत्थर से कुचल देता है.अच्छी मर्डर मिस्ट्री फ़िल्म है… फ़िल्म आप देख लीजिएगा जब टाइम मिले … लेकिन आप को इसी फिल्म के जैसी ही एक सच्ची घटना आपको सुनाने वाली हूँ जिसे सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे… इन दिनों प्रयागराज में कुम्भ की धूम है… और इसी कुम्भ में पकड़ा गया है एक ऐसा ही साइको किलर जो सड़क पर सो रहे लोगो को जान से मार देता है… उन्हें मारकर उनका गला काट देता है .ये इसी 25 जनवरी की बात है.38 साल का कलुआ पटेल उर्फ सुभाष उर्फ साईं बाबा कुम्भ में पहुंचा.वैसे तो कुंभ में लोग पाप धोने जाते हैं. लेकिन कलुआ पटेल वहां पाप धोने नही पाप करने पंहुचा था… उसने ठाना था, दो साधुओं को मारेगा. हालांकि गनीमत रहा कि पुलिस उसे पहले से तलाश रही थी. इससे पहले कि वो हत्याएं कर पाता, पुलिस ने उसे पकड़ लिया.

कलुआ इलाहाबाद का ही रहने वाला है. पकड़े जाने के बाद उसने पुलिस को बताया. कि वो अब तक 10 मर्डर कर चुका है. इलाहाबाद के ही अलग-अलग इलाकों में. जुलाई 2018 में उसने दो सोते मजदूरों को कत्ल किया. फिर नवंबर में भी एक आदमी उसके हाथ लगा. वो भी नींद में था, जब कलुआ ने कुल्हाड़ी से उसकी हत्या की. दिसंबर में भी उसने यूं ही एक सोते हुए मजदूर को काट डाला. कुंभ शुरू होने से पांच दिन पहले, 10 जनवरी को भी उसने एक सोते हुए आदमी का गला काट डाला था. फिर 18 जनवरी को उसने तीन लोगों पर हमला किया. वो भी गहरी नींद में थे. फुटपाथ पर सो रहे थे. उनमें से दो मारे गए. एक बच गया. उसके बाद भी उसने कुंभ वाले इलाके के पास एक सोते हुए आदमी की गला काटकर हत्या की. वो हत्याएं क्यों करता था, ये फिलहाल मालूम नहीं.

लेकिन अगर उसके द्वारा की गई हत्याओं को गौर से देखे तो पता चलता है उसका अपना एक पैटर्न था .कलुआ सीरियल किलर है. छह महीने में 10 कत्ल कर चुका है. वो रात के वक्त सड़क पर निकलता. अक्सर फुटपाथ पर सोने वाले मजदूर उसका निशाना बनते. कलुआ उनके ही कपड़ों से उनका चेहरा ढकता. फिर उनका गला काट डालता. जब पुलिस ने उसे अरेस्ट किया, उस वक्त कलुआ के पास थी एक धारदार कुल्हाड़ी. और एक लकड़ी का बल्ला. पुलिस को पहले हुई एक वारदात में कलुआ का फुटेज मिला था. CCTV कैमरे के इसी फुटेज की मदद से पुलिस उसे तलाश रही थी.लोग उसे साइको किलर की उपाधि दी रहे है और पुलिस का शुक्रिया अदा कर रहे कि कुम्भ में कुछ भयंकर अनहोनी से बचा लिया