ब्रेकिंग: रेलवे में इस सॉफ्टवेयर के जरिए किया जा रहा था करोड़ों की टिकट का फ’र्जीवा’ड़ा फिर RPF ने…

1116

केंद्र में बीजेपी की सरकार आने के बाद से ही भारतीय रेलवे को लेकर सरकार ने एक के बाद एक बड़े कदम उठाये हैं. रेलमंत्री पीयूष गोयल लगातार रेलवे की दशा को सुधारने के लिए फ़ैसले ले रहे हैं. पिछले 5 सालों में रेलवे की तुलना की जाए तो भारतीय रेलवे ने काफी तरक्की की है. वहीं इसी बीच एक और बड़ी खबर रेलवे से जुड़ी सामने आ रही है.

जानकारी के लिए बता दें RPF ने अभी हाल ही में एक बड़ी कार्रवाई की है. जिसमें रेलवे में रिजर्वेशन के लिए फर्जी सॉफ्टवेर का इस्तेमाल ये लोग फर्जी टिकट बेचा करते थे. जब RPF ने इस मामले में कार्रवाई तो बड़ी सच्चाई सामने आयी. जिसे जानने के बाद आप भी दंग रह जाओगे.

RPF ने जाँच में पाया कि mac सॉफ्टवेर के जरिये करोड़ों की टिकट का फर्जीवाड़ा हो रहा था, जिसके चलते 59 लोगों को दबोचा गया है. बता दें 11 और 12 फरवरी को RPF ने IRCTC के एजेंट के खिलाफ एक बड़ा देशव्यापी अभियान चलाया था, जिसमें कई एजेंटों को फर्जी टिकट बेचते हुए पकड़ा गया था.

गौरतलब है कि RPF ने अपनी इस कार्रवाई में 2 दिन में 319 एजेंट को गिरफ्तार किया. जिनमें से अब 317 एजेंटों की आईडी ब्लैकलिस्ट की जा रही हैं. वहीं 37.86 लाख रूपये की फ्यूचर टिकट को भी ब्लाक किया गया है. इतना ही कुल मिलाकर 1 करोड़ 19 लाख रूपये की टिकट पकड़ी गयी हैं. RPF द्वारा गिरफ्तार किये गये 3 एजेंटों ने इस बात को स्वीकार भी किया है कि वह फर्जी सॉफ्टवेर का इस्तेमाल किया करते थे.