तबलीगी जमात के समर्थन में उतर आई रेडियो मिर्ची की RJ सयेमा, पूरी दुनिया को बताया फेक, बस जमाती ही सच्चे

4613

तबलीगी जमात और उसके मरकज ने किस तरह से देश में कोरोना का विस्फोट ककिया है ये किसी से छुपा हुआ नहीं है. इतना ही नहीं उसके बाद जब जमातियों को आइसोलेशन सेंटर में भर्ती किया गया तो जगह जगह से जमातियों द्वारा डॉक्टरों पर थूकने और नर्सों के साथ अभद्रता की शिकायतें मिली. लेकिन कुछ लोग खुल कर जमातियों के समर्थन में उतर आये. जमातियों को बचाने की उनमे इतनी बेचैनी है कि सारी दुनिया को फेक बता दिया. टीवी पर जमातियों के बारे में आती खबरें फेक है, अखबारों में छपती खबरें फेक है. पूरे देश की मीडिया फेक है, इनके लिए बस जमाती ही सच्चे हैं.

जमातियों को बचाने में जो सबसे आगे हैं वो है रेडियो मिर्ची की RJ सायेमा. वही सयेमा जो CAA के खिलाफ लोगों को सड़क पर उतरने के लिए उकसाती थी. जिस वक़्त देश में कोरोना फ़ैल रहा था उस वक़्त दिल्ली के निजामुद्दीन में मरकज़ में जमातियों का सम्मलेन चल रहा था. बीमार लोग उसमे बैठे थे लेकिन फिर भी ये सम्मलेन चलता रहा. देश के अलग अलग मस्जिदों में विदेशी जमातियों को छुपाया गया था लेकिन सायेमा इसे बस एक गलती करार देती है. सयेमा ने ट्विटर पर लिखा, ‘जमातियों ने जो किया वो एक गलती है, शायद बहुत बड़ी गलती है लेकिन इसके पीछे उनका इरादा नेक था.’ अब जब पूरी दुनिया में कोरोना फैला हुआ हो तब बीमार लोगों को मरकज में बैठा कर इस्लाम का प्रचार करना और हज़ारों लोगों की जान को खतरे में डाल देना कौन सा नेक इरादा ये बस सायेमा ही जानती है.

सायेमा इतने पर ही नहीं रुकती, देश भर के अलग अलग हिस्सों से जमातियों की बेहूदगी की जो खबरें आ रही है. जो पुलिस कम्प्लेना दर्ज कराई गई है उसे भी सायेमा फेक करार देती है और जमातियों के जुर्म पर पर्दा डालने की कोशिश करती है. सारी दुनिया झूठी है. बस सायेमा सच्ची, इसके जमाती भाई सच्चे. बाकी सारी दुनिया झूठी.