कुछ इस तरह हुआ था ऋषि कपूर को प्यार का ए’हसास, पेरिस से ही भेजा था टेलीग्राम

142

दुनिया को अपने हुनर से लुभाने वाले ऋषि कपूर वो श’ख्स थे. जिन्हें बच्चे से लेकर बड़ों तक सभी जानते थे. उनकी अदाकारी हो या उनका व्यवहा’र सभी कायल थे. बॉलीवुड को एक अलग मु’काम पर पहुँचने वाले ऋषि कपूर आज हमारे बीच नहीं है. लेकिन लाखों करोड़ों लोगों के दिलों में वो आज भी है. उनके अल’विदा कह जाने से सभी स’दमे है. परिवार पर दु’खों का पहाड़ उमड़ गया है. लेकिन वो कहते है न “जिंदगी एक सफ़र है सुहाना यहाँ कल क्या हो किसने जाना…”

बता दें ऋषि कपूर के अंति’म समय में उनके साय की तरह उनकी पत्नी नीतू कपूर साथ रही. वैसे तो ऋषि कपूर और नीतू कपूर की केमेस्ट्री जितने दिलचस्प ओन स्क्रीन हुआ करती थी. उतनी ही ऑफ स्क्रीन भी थी. अब आपको बताते है किस तरफ ऋषि कपूर की जिंदगी में नीतू कपूर आयी और फिर जिंदगी भर के लिए उन्होंने नीतू कपूर का हाथ थाम लिया.

नीतू कपूर और ऋषि कपूर ने कई फिल्मे एक साथ की जिसकी वजह से वो दोनों काफी समय एक दूसरे के साथ ही गुजारते थे. लेकिन ऋषि कपूर को नीतू कपूर से प्यार का ए’हसास तब हुआ जब वो फिल्म बारूद की शूटिंग के लिए कुछ दिनों के लिए उनसे दूर गए.

जब ऋषि कपूर फिल्म की शूटिंग के लिए पेरिस पहुंचे तो उन्हें अकेले पन का एहसास हुआ और 2-3 दिन में ही उन्हें ये समझ आ गया कि वो नीतू कपूर से प्यार करते है. जिसके बाद उन्होंने पेरिस से ही नीतू कपूर को टेली’ग्राम भेजा. जिसमें लिखा था “ये सिखणी बड़ी याद आती है.” जिसके बाद से उनके रिश्ते की शुरुआत हुई और आज तक वो ऋषि कपूर के साथ थी. उन्होंने हर कदम पर ऋषि कपूर का साथ निभाया. भले ही अब ऋषि कपूर हमारे बीच नहीं रहे. लेकिन उनकी यादें और अदाकारी हमेशा उनके फैंस के दिलों में रहेंगी.