गणतंत्र दिवस की परेड में दिखा कुछ ऐसा कि सबकी आंखे खुली की खुली रह गई

1427

देश का 71वां गणतंत्र दिवस पूरे देश में बहुत ही धूमधाम से मनाया जा रहा है. इस दौरान देश की राजधानी दिल्ली में भी राजपथ पर देश के सैन्य और सांस्कृतिक ताकत की झलक देखने को मिली. गणतंत्र दिवस परेड में पूरी दुनिया ने भारत की सांस्कृतिक विरासत का दीदार किया. इस दौरान हर राज्य और हर विभाग की झांकी निकाली गई. लेकिन एक झांकी ऐसी थी जिसे देख सबकी आँखें खुली की खुली रह गई.

दरअसल जब राजपथ से होकर राज्यों की झांकी निकल रही थी तो उनमे उत्तर प्रदेश की झांकी भी थी. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री है भाजपा के फायरब्रांड हिंदूवादी नेता योगी आदित्यनाथ. जबकि पीएम नरेंद्र मोदी भी उत्तर प्रदेश के ही सांस्कृतिक केंद्र वाराणसी से सांसद हैं. ऐसे में सबको उम्मीद थी कि उत्तर प्रदेश की झांकी में हिन्दू संस्कृति और सभ्यता की झलक देखने को मिलेगी. लेकिन जब राजपथ से झांकी निकली तो सबकी आँखें खुली की खुली रह गई.

दरअसल उत्तर प्रदेश की झांकी का थीम सूफियाना था. झांकी में बाराबंकी के देवा शरीफ का दृश्य देखने को मिला. साथ ही सूफियाना संगीत की भी झलक थी. लोगों ने उम्मीद की थी कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की हिंदूवादी छवि के कारण शायद बनारस के घाट या गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर की झलक देखने को मिलेगी लेकिन बाराबंकी के देवा शरीफ को देख सबके भौचक रह गए.