नका’बपोशों के संग नजर आईं J’NU छात्र संघ अध्यक्ष आईशी घोस ? अब पु’लिस ने की ये का’र्रवाई

1528

दिल्ली में जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के अंदर रविवार रात जो कुछ भी हुआ वो अगले दिन अख़बार की सुर्खियां और TV की डिबेट्स बन गया, घट’ना के बाद दिल्ली पुलि’स को आड़े हाथों लेने की कोशिश की गयी, लेकिन पुलिसिया कार्र’वाई अब ब’वाल मचाने वालों के ऊपर शुरू हो चुकी है. इसके लिए लगातार दिल्ली पुलि’स सतर्कता बरतते हुए नका’बपोश हम’लावरों को खोजने में लगी हुई है.आपको बता दें, इस मामले में J’NU छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घो’ष पर इस बीच पु’लिस एफ’आई’आर दर्ज की है। उनके आलावा चार जनवरी को जेएनयू के सर्वर रूम में तो’ड़फो’ड़ और सुरक्षा गार्डों पर ह’मला करने के आरो’प में 19 अन्य लोगों के खि’लाफ भी एफआई’आर दर्ज की गई है। एफ’आईआर में जो आरो’पी कॉलम बनाया गया है उसमें अन्य छात्रों का नाम दर्ज नहीं किया गया है, लेकिन डिटेल में उनका नाम जरूर शामिल किया गया है।

ABVP ने ट्वीट किया एक वीडियो जिसमें नका’बपोशों के साथ नजर आईं आईशी घोष
इस घटना के बाद लेफ्ट ने A’BVP पर नका’ब पहनकर बवा’ल करने का आ’रोप लगाया, हालाँकि खुद A’BVP के कई छात्र इस मा’रपी’ट में घा’यल हैं. लेकिन फिर भी खुद पर लगते आ’रोपों को देखकर A’BVP ने एक वीडियो ट्वीट किया है जिसमें कथित तौर पर JN’U छात्र संघ की अध्यक्ष आईशी घोस उन नका’बपोशों को एक तरह से रास्ता दिखाते हुए लीड करती दिख रहीं हैं.

आईशी घोष और अन्य लोगों पर लगाया गया तो’ड़फो’ड़ का आ’रोप
गौरतलब है छात्र संघ अध्यक्ष आईशी घोष और अन्य छात्रों पर जेएनयू प्रशासन द्वारा दर्ज कराई गयी शिकायत के बाद दिल्ली पुलिस ने हाल ही में एक एफआई’आर दर्ज की है. इन सभी छात्रों पर जो आरो’प लगाए गए हैं उनके मुताबिक 4 फरवरी को इन लोगों ने सर्वर रूम में तो’ड़फो’ड़ और मौजूद सुरक्षा गार्ड से मा’रपी’ट की थी. इस माम’ले पर जेएनयू प्रशासन मे पांच जनवरी को शिकायत की थी, जिसके बाद अब पु’लिस द्वारा एफआ’ईआर दर्ज की गई।

पांच जनवरी जब हुआ था हॉस्टल में ह’मला
आपको बता दें जेएनयू के तीन हॉस्टलों में रविवार पांच जनवरी की शाम को जमकर हं’गामा हुआ था. कुछ नका’बपोश हॉस्टल परिसर के अंदर घुसे और उन्होंने कई छात्रों को पी’टा और खूब जम’कर तो’ड़फो’ड़ भी की.. इसके बाद छात्र संघ अध्यक्ष आईशी घोष पर भी ह’मला हुआ जिसमें उनके सिर में गं’भीर चो’टें आईं. नका’ब के पीछे छिपी राजनीति को लेकर भी अब खूब बहस चल रही है देशभर में राजनीति चमकाई जा रही है.