व्हाट्सऐप को लेकर रविशंकर प्रसाद ने किया ये बड़ा ऐलान

441

देश में सोशल मीडिया को लेकर बच्चे तो बच्चे बूढ़े भी पूरी तरह से एक्टिव रहते हैं. सभी तरह की सोशल साइट्स पर फिर चाहे वो व्हाट्सएप हो या फेसबुक ये सबसे चर्चित एप हैं. जिनको सबही लोग बहुत शौक के साथ उसे यूस करते हैं आज अपने देश के अंदर.

इन सबके बीच आज आईटी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद ने एक चैनल को दिए अपने इंटरव्यू में बताया हैं कि भारत सरकार भी इंडियन व्हाट्सएप बनाने का काम जारी है. अगर ऐसा है तो भारत के लिए ये बहुत बड़ी उपलब्धि होगी. रविशंकर प्रसाद ने बताया कि इंडियन व्हाट्सएप को दो एजेंसी बना रही है. जिनका नाम है नेशलन इंफॉर्मेटिक्स सेंटर (NIC) और सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलीमैटिक्स (CDOT) मिलकर डेवलप कर रही हैं.  

आरोग्य सेतु एप को लेकर राहुल गाँधी ने सवाल उठाये थे. जिसको लेकर आज केंद्रीय मंत्री ने कोरोना वायरस कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग ऐप को लेकर उन्होंने कहा कि आरोग्य सेतु ऐप से किसी का भी  डेटा लीक नहीं होता हैं. रविशंकर ने बताया की यह ऐप पूरी तरह से सुरक्षित है. यह केवल लोगों को चेतावनी देने का काम करता है कि आपके नजदीक में कोई कोरोना पॉजिटिव है. आप बचकर रहें.

आरोग्य सेतु ऐप को देश में 9.5 करोड़ लोगों ने डाउनलोड कर लिया है किसी का नाम इस ऐप में नहीं आता है. पूरा डेटा इसमें इनक्रिप्टेड फार्म में होता है. सामान्य डेटा 30 दिन में अपने आप खत्म हो जाता है. जबकि कोरोना संक्रमित व्यक्ति का डेटा 45 से 60 दिन में खत्म हो जायेगा उन्होंने आरोग्य सेतु ऐप को लेकर ये सारी बाते और लोगों को जिनको डाउट हैं उनके डाउट को क्लियर कर दिया है.