राज्यसभा में दिल्ली अग्नि काण्ड पर बहस के दौरान सांसद पर भड़क गये उपराष्ट्रपति

1418

राज्यसभा में सोमवार को दिल्ली में हुए अग्नि काण्ड का मुद्दा उठाया गया. दिल्ली के सभी सांसदों ने इस मुद्दे को राज्यसभा में उठाया है. बीजेपी के विजय गोयल और आम आदमी पार्टी के नेता और सांसद संजय सिंह ने सभी को इसकी जिम्मेदारी लेने की बात कही. हालाँकि संसद में चर्चा के दौरान बार बार बीच में टोके जाने से राज्यसभा स्पीकर भड़क गये और उन्होंने कहा कि आप ही कुर्सी पर बैठ जाइए.

दरअसल रविवार को दिल्ली के एक इलाके में भीषण आगे ने 43 लोगों की जान ले ली. हादसा सुबह सुबह हुआ और हादसा इस तरह हुआ कि कम्पनी में मौजूद किसी को भी भागने का मौका नही मिला. इस घटना को लेकर दिल्ली के नेताओं में जमकर राजनीति चल रही है. आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो चुका है. इसी मुद्दे पर राज्यसभा में बहस चल रही थी.

बीजेपी सांसद विजय गोयल ने कहा कि राजनीति से परे हटकर हम सभी को एक साथ आना होगा, सिर्फ जांच से कुछ नहीं होगा. आज देखें तो चांदनी चौक में आधे से अधिक बिल्डिंग खतरनाक हैं, हम सभी को सोचना होगा कि कौन जिम्मेदार है. वहीँ आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने कहा कि जिनकी मौत हुई है, वह मजदूरी करने के लिए आए थे. जहां पर आग लगी वहां बाहर से ताला बंद था, अंदर से निकलने की जगह नहीं थी. आज समय राजनीति का नहीं है, सभी पार्टियों का साथ आकर तय करना होगा कि जिम्मेदारी किसकी है.

Source-NEWS On Air

हालाँकि इस चर्चा के दौरान जब विजय गोराल बोल रहे थे तभी विपक्ष की ओर से कांग्रेस सांसद रंगराजन बीच में ही कुछ बोलने लगे. इस पर सभापति की कुर्सी पर बैठे उपराष्ट्रपति वैंकया नायडू भड़क गये. उन्होंने कहा कि आप सीधे किसी सदस्य से बात नहीं कर सकते हैं, जबतक कि सांसद किसी पार्टी या नेता का नाम ना लें. उपराष्ट्रपति ने कहा कि अगर सीधे आपको ही बात करनी है तो आप ही कुर्सी पर बैठ जाइए.