गलवान घाटी में 20 सैनिकों के श’हीद होने पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दिया बड़ा बयान

426

चीन और भारत के बीच लद्दाख बार्डर के पास गलवान घाटी पर काफी दिनो से तनातनी चल रही है. जिसको लेकर दोनो देशो के बीच कई दौर की बैठक हो चुकि है. लेकिन चीन अपने दो’गले रवैये से बाज़ नही आ रहा है. चीन के साथ बातचीत करने से भी कोई फायदा नही हुआ है. क्योकि चीन ने जो हरकत की है वो बर्दाशत करने लायक नही है. इसको लेकर रक्षा मंत्री ने शही’द हुए जवानो को लेकर ट्वीट कर के दुःख व्यक्त किया हैं.

चीनी सैनकों के साथ हुए झड़प को लेकर भरिय सेना के 20 जवान शहीद हुए है. जिसको लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ट्वीट कर के कहा है कि ये खभर सुनने के बाद मुझे बहुत तकलीफ हुई हैं. जो हमारे जांबाज जवान कल शहीद हुए हैं. उन जवानो के लिए और उनके परिवार वालों के लिए मैं दुआ करता हूँ भगवान से की उनके परिवार को इस दुःख को सहने की शक्ति दें. रक्षा मंत्री ने आगे अपने ट्वीट में कहा कि हमारे श’हीद हुए जवानो के परिवार के साथ आज पूरा देश कंधे से कन्धा मिलाकर खड़ा हैं. राजनाथ सिंह ने कहा कि मुझे ऐसे वीर जवानो पर गर्व हैं.

लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) को लेकर सूत्रों का कहना है कि चीन से बातचीत करने का कोई असर नही पड़ा है. स्थिति अभी भी तना’वपूर्ण है. इसके बाद भारतीय सेना सिर्फ लद्दाख ही नही एलएसी के दूसरे हिस्सों में भी सेना अलर्ट मोड़ पर आ गई है. इस झड़प के बाद रक्षा मंत्री ने सेना प्रमुख के साथ बैठक कर की है और बॉर्डर का पूरा हाल जाना हैं.

भारत की तरफ से जारी आधिकारिक बयान के मुताबिक, 20 जवान श’हीद हुए हैं. लेकिन चीन की बात कें तो वो अपना मुहं खोलने की हिमाक’त नही कर पा रहा है और  कुछ भी सही नही बता रहा है. लेकिन चीन की तरफ नुकसान बहुत तगड़ा हुआ है. एनआई की तरफ से पुष्टी की गई है कि 43 जवान चीन के भी शही’द हुए है.