सूरत के बाद गृह राज्य जाने के लिए मजदूरों ने फिर मचाया हं’गामा, सड़कों पर उतरी भी’ड़

देश में लॉकडाउन का तीसरा चरण आज समा’प्त हो जायेगा. इसके बाद सोमवार से लॉकडाउन का चौथा चरण नए रंग रूप के साथ देशवासियों के सामने आएगा. सरकार ने लॉकडाउन 3 में लोगो को राहत देते हुए कुछ ढी’ल दी थी. जिसमें देश को तीन जोन में बाँटा गया था. इसी के साथ सरकार ने कुछ नि’र्देश के साथ लोगो को कंपनी और फैक्ट्री खोलने की भी इ’जाजत दी थी. जिसमें सीमित लोगो की संख्या होना अनिवा’र्य था. ताकि लोग लोग काम न होने की वजह से इधर उधर जा रहे है वो वापस अपनी काम पर लौट सके.

इसी के बीच एक बार फिर मजदूर वर्ग सड़कों पर उतर आया है. दरअसल माम’ला राजकोट का है. राजकोट में शापर-वेरावल हाईवे पर रविवार को मजदूरों ने जमकर हंगा’मा किया और ने तोड’फोड़ की जिससे कई वाहन क्षति’ग्रस्त हुए. दरअसल मजदूर लोग आने राज्यों में जाने के लिए निकले थे. लेकिन जब बस के निर्धा’रित स्थान पर पहुंचे तो वहां पर किसी भी तरह की कोई परिवहन सु’विधा नहीं थी. जिसके बाद लोगो में गु’स्सा बढ़ गया और उन्होंने सड़कों पर हं’गामा करना शुरू कर दिया.

मौके पर पहुंची पुलिस ने माम’ले को सँभालने की कोशिश की. जिसमें राजकोट के पुलिस अधीक्षक बलराम मीणा घा’यल हो गए. लेकिन काफी मशक्क’त के बाद मजदूरों को घर भेजने का आश्वा’सन देकर प्रशासनिक अधिकारियों ने किसी तरह शां’त कराया. गौरतलब है ऐसा पहली बार नहीं हो रहा है जब मजदूर अपने घर जाने के लिए सड़कों पर उता’र आये हो और हंगा’मा किये हो इससे पहले सूरत में भी मजदूरों ने घर जाने को लेकर काफी हं’गामा किया था. जाहिर है देश भर में लॉकडाउन की वजह से लोग फं’स गए है वही दूसरी तरह कोई काम न होने की वजह से काफी दि’क्कतें भी हो रही है.