कोरोना के मरीजों से दूर से बात करने के लिए रेलवे ने बनाई ये ख़ास ट्राली, इसकी खासियत विचलित कर देंगी

देश नहीं बल्कि दुनियाभर में कोरोना का प्रकोप अभी थमने का नाम नहीं ले रहा है. भारत में पिछले 24 घंटों में रिकॉर्ड तोड़ 1500 से ज्यादा मरीजों की संख्या बढ़ी है. भारत में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 33 हजार के पार हो गयी है. सरकार द्वारा उठाये गये कई बड़े कदमों के बाद हालत ये है अगर लॉकडाउन नही किया गया होता तो आज स्थिति और भी भयावह हो सकती थी.

जानकारी के लिए बता दें देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना के बढ़ते प्रकोप के चलते लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ाने का फैसला लिया था. उनका भी यही कहना था कि आज हम लॉकडाउन की वजह से ही अन्य देशों के मुकाबले काफी बेहतर स्थिति में हैं लेकिन अभी के हालात को देखते हुए भी यही कयास लगाये जा रहे हैं कि लॉकडाउन को और आगे बढ़ाया जा सकता है. वहीँ सरकार कोरोना के मरीजों को लेकर भी बड़े कदम उठा रही है.

सरकार कोरोना संक्रमित लोगो के पास जितना कम जाया जाए इसको लेकर भी कई प्रयास चल रहा है. इसी बीच एक बड़ी खबर रेलवे की तरफ से आ रही है. आसनसोल रेल डिवीजन ने एक ऐसी ट्रेन ट्राली बना डाली है जिसके जरिये डॉक्टर लोग मरीज के पास न जाकर दूर से ही उनसे बातचीत कर सकेंगे और उनकी सेहत का हाल ले सकेंगे.

गौरतलब है कि रेलवे के इस ख़ास यंत्र को आसनसोल रेल डिवीजन ने सिंग्नल एंड टेलिकॉम डिपार्टमेंट ने तैयार किया है. यह ट्राली ट्रेन रिमोट कंट्रोल के माध्यम से मरीज के पास पहुंच जाती है और उसके साथ डॉक्टर की बात करवाती है. इतना ही नहीं मरीज की सेहत का हाल जानने के बाद यह मरीज के लिए दवाई भी लाने का इंतजाम करती है साथ ही मरीजों को खाना लाने का काम भी कर सकती है. देश में पहली बार ऐसी ख़ास ट्राली बनाई गयी है.